Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

Uttarakhand Glacier Burst:तपोवन टनल में राहत-बचाव अभियान के बीच अभी भी 174 लापता, 32 शव बरामद

टनल में फंसे 35 मजदूरों को निकालने का कार्य चला हुआ

Uttarakhand Glacier Burst:तपोवन टनल में राहत-बचाव अभियान के बीच अभी भी 174 लापता, 32 शव बरामद

- Advertisement -

उत्तराखंड के चमोली जिले (Chamoli in Uttarakhand)की ऋषिगंगा (Rishiganga)में आए जल प्रलय के दौरान टनल में से अभी तक 32 शव निकाले जा चुके हैं,इनमें से आठ की शिनाख्त हो गई है। बुधवार यानी आज चौथे दिन भी राहत व बचाव कार्य (Rescue Work) जारी हैं। इससे पहले मंगलवार रातभर टनल (Tunnel) से मलबा हटाने का काम बराबर चलता रहा। इस दौरान ड्रोन (Drone) की भी मदद ली गई। बावजूद इसके अभी तक 174 लोग लपाता हैं, इनमें से टनल में फंसे 35 मजदूरों को निकालने का कार्य चला हुआ है।


यह भी पढ़ें: Uttarakhand Glacier Burst : लापता लोगों की पहली लिस्ट जारी, सबसे ज्यादा UP निवासी

कहा जा रहा है कि टनल से अभी मलबा हटाने में और समय लगेगा। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है, नौसेना के कमांडो भी मौके पर पहुंच गए हैं। आइटीबीपी के 450 जवान एनडीआरएफ की पांच टीमें, सेना की आठ टीम और वायु सेना के पांच हेलीकॉप्टर मोर्चे (Air Force Helicopters) पर डटे हुए हैं। टीम लगातार मलबा हटाकर फंसे हुए लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है, लेकिन मलबा ज्यादा होने के कारण उन्हें कई दिक्कतों का सामना करना पड रहा है। 180 मीटर दूर टी-प्वाइंट पर फंसे व्यक्तियों को बचाने को अब वैकल्पिक रास्ते पर विचार किया जा रहा है। बीती सात फरवरी को रैणी गांव के समीप ग्लेशियर टूटने से आई आपदा में 32 लोग हताहत हुए, जबकि लापता व्यक्तियों की संख्या 174 बताई गई है। वही, तपोवन टनल में अब भी 35 जिंदगियां फंसी हुई है, जिन्हें निकालने के तीन दिन से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है