Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

हिमाचल में बारिश: पंडोह के निकट लैंडस्लाइड, चंडीगढ़-मनाली एनएच बंद

मार्ग को जल्द किया जा रहा है बहाल, कुछ गाड़ियां भी आई चपेट में

हिमाचल में बारिश: पंडोह के निकट लैंडस्लाइड, चंडीगढ़-मनाली एनएच बंद

- Advertisement -

हिमाचल प्रदेश में बारिश ने जन जीवन पर असर डाला है। राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में पश्चिमी विक्षोभ काफी सक्रिय है और जम कर बारिश हो रही है। बेशक यह बारिश लोगों के लिए राहत लेकर आई है पर कुछ स्थानों पर इससे काफी नुकसान हुआ है। मंडी में चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे बंद हो गया है। पहाड़ी से मलबा आने के चलते यह मार्ग बंद हुआ है। हालांकि,अभी मलबा साफ किया जा रहा है और शीघ्र मार्ग बहाल कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- हिमाचल: सांसद सुरेश कश्यप के नाम की उद्घाटन पट्टिका तोड़ी, PWD ने दर्ज करवाई शिकायत

जानकारी के अनुसार, मंडी के पंडोह से कुछ आगे डयोढ़ में पहाड़ी पर लैंडस्लाइड होने के बाद मलबा हाईवे पर आ गया था।
देर रात मलबा आया तो चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे को बंद कर दिया गया। इस बीच हाईवे खोल दिया गया था, लेकिन सुबह फिर से मलबा आने के चलते हाईवे बंद कर दिया गया है। मंडी की एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि मलबा आने के चलते हाईवे बंद हुआ है। जल्द हाईवे बहाल हो जाएगा, मलबा हटाने का काम जारी है।जानकारी के अनुसार, कुछ गाड़ियां और ट्रक मलबे की चपेट में आए थे, लेकिन जान माल का नुकसान नहीं हुआ ।

लाहुल स्पीति में बारिश व बर्फबारी के कारण कई मार्ग बंद

प्रदेश के दुर्गम जिला लाहुल में भारी बारिश के साथ साथ बर्फबारी भी हो रही है। इस दुर्गम जिला में कई मार्ग बंद हो गए हैं। मनाली लेह राजमार्ग पर मनाली से दारचा तक वाहनों की आवाजाही तो बहाल है पर दारचा से आगे बर्फबारी के कारण खराब मौसम के चलते वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है । दारचा शिंकुला सड़क में भी वाहनों के आने जाने पर रोक लगा दी है। कोक्सर लोसर काजा सड़क भी आवाजाही के लिए बंद है। पांगी सड़क (SH-26) पिछले कल से ही भूस्खलन और पुल के क्षतिग्रस्त होने के कारण बन्द है। प्रशासन ने स्थानीय लोगों और पर्यटकों को हिदायत दी है कि मौसम खराब होने के कारण अनावश्यक यात्रा से बचें और आपातकालीन स्थिति में ही यात्रा करें।

शिमला में  बारिश का दौर

उधर राजधानी शिमला में बीती रात से ही बारिश का दौर जारी है। इससे जहां प्रदेश में ड्राई स्पेल का चक्कर टूटा है, वहीं मौसम में ठंडक लौट आई है। बारिश के होने से प्रदेश को सूखे की स्थिति से काफी निजात मिली है। जल शक्ति विभाग की 500 से ज्यादा पानी की स्कीमों में जलस्तर घटकर 25% तक रह गया था, लेकिन अब यह बढ़ गया है। प्रदेश में आज भी मौसम दिनभर खराब रहेगा। मौसम विभाग ने बारिश और ओलावृष्टि होने के आसार जताए हैं।

मौसम विभाग के अनुसार, आज भी 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज तूफान चलने का पूर्वानुमान है। मैदानी और कम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में कहीं-कहीं भारी बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गई है। 25 मई को भी प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ अपना असर दिखाएगा और ठंडक का अहसास रहेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है