Covid-19 Update

2,86,414
मामले (हिमाचल)
2,81,601
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,502,429
मामले (भारत)
554,235,320
मामले (दुनिया)

इस गांव में उल्टी दिशा में चलती है घड़ी की सुई, 12 बजे के बाद बजते हैं 11

शादी करने का तरीका है अलग, उल्टी दिशा में फेरे लेते हैं दूल्हा-दुल्हन

इस गांव में उल्टी दिशा में चलती है घड़ी की सुई, 12 बजे के बाद बजते हैं 11

- Advertisement -

दुनियाभर में बहुत सारी अनोखी जगह और चीजें है। आपने कई सारी घड़ियों तो देखी होगी, लेकिन हमारे देश के छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के एक गांव की घड़ियां आपको कंफ्यूज कर देंगी। दरअसल, इस गांव में घड़ी के कांटे उलटी दिशा में चलते हैं। यहां रात को 12 बजे के बाद एक नहीं बल्कि 11 बजते हैं।

ये भी पढ़ें- इस गांव के युवाओं ने नहीं देखे पुलिसवाले, यहां 39 साल से नहीं हुई कोई FIR दर्ज

गांव की प्रथाओं के अनुसार, इस गांव की घड़ियां दाएं से बाएं की तरफ चलती हैं यानी यहां की घड़ियां एंटी क्लॉक वाइज (Anti-Clockwise) चलती हैं। इस प्रथा का पालन करने वाले गोंड आदिवासी समुदाय के लोगों को कहना है कि उनकी घड़ियां सही चलती हैं। इस गांव में करीब 10 हजार परिवार रहते हैं। इन लोगों ने अपनी घड़ी का नाम भी रखा हुआ है। इस समुदाय की घड़ी गोंडवाना टाइम (Gondwana Time) कहलाती हैं।

इसके अलावा इस गांव में शादी को लेकर भी एक अनोखी परंपरा है। इस समुदाय के लोगों का शादी करने का तरीका कुछ अलग है। इस समुदाय में दूल्हा-दुल्हन के फेरे उल्टी दिशा में लिए जाते हैं। इस समुदाय के लोग महुआ और परसा जैसे पेड़ों की पूजा करते हैं। इस समुदाय के लोगों का मानना है कि धरती दाईं से बाईं दिशा में घूमती है। इतना ही नहीं इनका कहना है कि चांद, सूरज और तारे भी इसी दिशा में घूमते हैं। यहीं कारण है कि इस समुदाय के लोगों ने घड़ी की दिशा ऐसी रखी हुई है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है