हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

राजस्थान.छत्तीसगढ़ में भी सरकारें हैं, ओपीएस देने की बात हिमाचल में क्यों: जयराम ठाकुर

ऊना के गगरेट में बोले सीएम-कर्मचारियों के साथ बीजेपी पूरी तरह से है संवेदनशील

राजस्थान.छत्तीसगढ़ में भी सरकारें हैं, ओपीएस देने की बात हिमाचल में क्यों: जयराम ठाकुर

- Advertisement -

ऊना। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने बुधवार को गगरेट विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी के प्रत्याशी एवं मौजूदा विधायक राजेश ठाकुर (MLA Rajesh Thakur) के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया। इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से सीएम जयराम ठाकुर का स्वागत किया। इस दौरान गगरेट और चिंतपूर्णी (Gagret and Chintpurni) के पूर्व विधायक एवं हाल ही में कांग्रेस छोड़कर बीजेपी (BJP) में शामिल हुए वरिष्ठ नेता राकेश कालिया, बीजेपी प्रत्याशी राजेश ठाकुर और गगरेट बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कालिया (Sushil Kalia) समेत तमाम लोग मौजूद रहे। जनसभा के बाद पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत करते हुए सीएम ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में रिवाज बदल रहा है केंद्र की पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सरकार और प्रदेश की जयराम सरकार के संयुक्त प्रयासों से हर वर्ग को लाभ पहुंचाने का काम किया गया है और इन्हीं तमाम विकास योजनाओं के आधार पर सरकार चुनाव में उतरी है।

यह भी पढ़ें:चाहे मूली कहो या गाजर, ये रिवाज हम छोटे लोग बदल कर रहेंगे: सीएम जयराम ठाकुर

ओल्ड पेंशन स्कीम को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि बीजेपी कर्मचारियों के प्रति संवेदनशील है और उनकी पूरी सहानुभूति कर्मचारियों के साथ है। इस मामले को लेकर केंद्र से भी लगातार वार्ता जारी है। हालांकि कांग्रेस द्वारा ओपीएस देने के ऐलान पर जमकर हमला किया। सीएम ने कहा कि कांग्रेस की राजस्थान और छत्तीसगढ़ (Rajasthan and Chhattisgarh) में भी सरकारें हैं लेकिन ओल्ड पेंशन स्कीम देने की बात हिमाचल में ही की जा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस स्पष्ट करें कि छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कितने कर्मचारियों को ओल्ड पेंशन स्कीम व्यवहारिक रूप से दी जा चुकी है। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि कांग्रेस कभी भी ओल्ड पेंशन स्कीम (old pension scheme) नहीं दे सकती क्योंकि हिमाचल प्रदेश में ओल्ड पेंशन स्कीम को बंद करने के लिए कांग्रेस के ही पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने देश भर में सबसे पहले कदम बढ़ाया था। अब कांग्रेस कर्मचारियों को पुरानी पेंशन स्कीम देने का लॉलीपॉप देकर गुमराह करने का प्रयास कर रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है