Covid-19 Update

2, 85, 010
मामले (हिमाचल)
2, 80, 811
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,138,393
मामले (भारत)
527,715,878
मामले (दुनिया)

सीएम जयराम बोले- हिम्मत है तो रात के अंधेरे में नहीं, दिन के उजाले में सामने आएं

झंडे लगाने की घटना को कायरता पूर्ण बताया

सीएम जयराम बोले- हिम्मत है तो रात के अंधेरे में नहीं, दिन के उजाले में सामने आएं

- Advertisement -

धर्मशाला के तपोवन स्थित हिमाचल भवन परिसर के बाहर खालिस्तान के झंडे लगाने की घटना की सीएम जयराम ठाकुर ने निंदा करते हुए इसे कायरता पूर्ण बताया है। सीएम जयराम ने कहा कि यदि हिम्मत है तो रात के अंधेरे में नहीं, दिन के उजाले में सामने आएं। इस घटना की त्वरित जांच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज हुई है। सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है। हम दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। राज्य के लोगों से शांति बनाए रखने का आग्रह करता हूं। हम जल्द ही अन्य राज्यों के साथ अपनी सीमाओं पर सुरक्षा की समीक्षा करेंगे। अपने ट्वीट में सीएम जयराम ने लिखा- धर्मशाला विधानसभा परिसर के गेट पर रात के अंधेरे में खालिस्तान के झंडे लगाने वाली कायरतापूर्ण घटना की मैं निंदा करता हूं। इस विधानसभा में केवल शीतकालीन सत्र ही होता है इसलिए यहां अधिक सुरक्षा व्यवस्था की आवश्यकता उसी दौरान रहती है। इसी का फायदा उठाकर यह कायरतापूर्ण घटना को अंजाम दिया गया है, लेकिन हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे।इस घटना की त्वरित जांच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।मैं उन लोगों को कहना चाहूंगा कि यदि हिम्मत है तो रात के अंधेरे में नहीं, दिन के उजाले में सामने आएं।

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल जैसे शांतिप्रिय राज्य में इस प्रकार की घटना को अंजाम देने वालों का दौर ज्यादा लंबा नहीं चलने वाला है। सीएम ने बताया कि उन्होंने कांगड़ा जिला पुलिस को मामले पर त्वरित कार्रवाई के आदेश जारी कर दिए हैं और इस घटना को अंजाम देने वाले जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे। इन लोगों के खिलाफ पुलिस को सख्त कार्रवाई करने को भी कह दिया गया है। इस घटना के पीछे किसका हाथ और किस मंशा के साथ इसे अंजाम दिया गया है, उसपर अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा। उन्होंने कहा कि समय आने पर सभी को इस बात का पता चल जाएगा। पुलिस ने इसमें मामला दर्ज कर लिया है और विधानसभा परिसर के आसपास के सभी सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला जा रहा है।

जाहिर है तपोवन स्थित विधानसभा के मुख्य प्रवेश द्वार पर रविवार सुबह खालिस्तान के काले झंडे लगाए देखे गए। इन पर खालिस्तान लिखा था। सुबह होते ही जब लोगों को इस बारे में पता चला तो पुलिस को सूचित किया गया। योल पुलिस ने मौके पर जाकर झंडे उतार दिए। इसके पीछे किसकी शरारत है व किसने यह सब किया है, पुलिस उन शरारती तत्वों की इसकी तलाश कर रही है।

ये भी पढ़ेः हिमाचल विधानसभा के बाहर लगे खालिस्तान के झंडे, दीवारों पर भी लिखा

पुलिस अन्य स्थानों पर स्थापित सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग भी खंगालेगी। खालिस्तान की तरफ से लगातार बीते दिनों में धमकियों का सिलसिला भी बढ़ा है।उसके बाद खालिस्तान के झंडे लगाकर पंजाब से आने वाले कुछ युवक अपने मोटरसाइकिलों व अन्य वाहनों में यह झंडे लगाकर आ रहे थे। जिन्हें पुलिस ने उतरवाया भी था और उसके बाद शिमला में भी इस तरह के झंडे लगाने संबंधित धमकियां दी जा रही थी। बताया जा रहा है कि विधानसभा परिसर में चार गार्ड मौजूद है। जबकि विधानसभा के बाहर गार्ड नहीं होता है और ना ही अभी तक यहां पर सीसीटीवी कैमरे स्थापित है। सुरक्षा के लिहाज से सीसीटीवी कैमरे स्थापित करने का प्रस्ताव है पर अभी तक स्थापित नहीं हैं।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है