हिमाचल में बनेगी बीजेपी की सरकार : जयराम ठाकुर

धर्मशाला में सीएम ने कांग्रेसी नेताओं पर साधा निशाना

हिमाचल में बनेगी बीजेपी की सरकार : जयराम ठाकुर

- Advertisement -

धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में आठ दिसंबर को चुनावी नतीजे निकल रहे हैं। इससे पहले मंथन के लिए बीजेपी (BJP) की धर्मशाला के डी पोलो होटल (D Polo Hotel) में एक मीटिंग हुई। इसमें सीएम जयराम ठाकुर भी शामिल हुए। उन्होंने कहा कि मतगणना को लेकर एक समीक्षा बैठक की गई है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में बीजेपी की ही दोबारा सरकार बनेगी। इस दौरान सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) कांग्रेस पर भी काफी हमलावर रहे।

यह भी पढ़ें:खुद को कट्टर ईमानदार बताने वालों के मंत्री आज जेल की खा रहे हवा: जयराम ठाकुर

उन्होंने कहा कि कांग्रेस (Congress) के आठ-दस लोग इस बार भावी सीएम बनकर चुनाव लड़ रहे थे। मगर इनकी हार होना तय है। आठ-आठ लोगों की कुंडलियां दिल्ली हाईकमान को भेजी जा रही हैं। मगर इनकी हार निश्चित है। वहीं बीजेपी की मीटिंग में शामिल होने के लिए 54 उम्मीदवार पहुंचेए जिनका माता की चुनरी ओढ़ाकर स्वागत किया गया। ठक में हिमाचल बीजेपी अध्यक्ष सुरेश कश्यप, सीएम जयराम ठाकुर, प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, सह प्रभारी संजय टंडन और संगठन मंत्री पवन राणा के साथ कई दिग्गज नेताए मौजूदा विधायक भी उपस्थित रहे।

4 प्रमुख बिंदुओं पर प्रत्याशियों की नब्ज टटोल कर हाईकमान को रिपोर्ट भेजगी पार्टी

इस बैठक में पार्टी 4 प्रमुख बिंदुओं पर प्रत्याशियों की नब्ज टटोल कर पार्टी हाईकमान को रिपोर्ट (Report) भेजगी। उसी आधार पर हाईकमान सरकार बनाने के लिए अपनाए जाने वाले फार्मूले पर काम करेगी। पार्टी यह आंकलन कर रही है कि कितने आजाद प्रत्याशी जीत कर आएंगे और उनकी भूमिका क्या रहेगी। इनमें से पार्टी (Party) की विचारधारा से कितने जुड़े हो सकते हैं और दूसरे विचार के कितने ।

कांग्रेस भले ही चुनाव में जीत के दावे करते हुए सीएम पद की लड़ाई लड़ रही होए लेकिन बीजेपी भी अपनी जीत के दावे कर रही है। बीजेपी (BJP) सत्ता में वापसी के लिए हर तरह से जोड़-तोड़ करने की तैयारी में है। यही वजह है कि चुनाव परिणाम से ठीक 4 दिन पहले सभी प्रत्याशियों के फीडबैक लेकर रिपोर्ट बनाई जाएगी। दूसरा बड़ा फैक्टर यह भी देखा जाएगा कि कौन-कौन की सीटें बराबरी पर दिख रही हैं।

जिन सीटों पर स्थिति डाउटफुल है, उनके हालात पर चर्चा हो रही है। इसके अलावा जहां बीजेपी को अपनी हार सामने दिख रही हैं, ऐसी सीटों पर भी मंथन होगा कि वहां आजाद या फिर कांग्रेस (Congress) प्रत्याशी चुनाव जीत रहे हैं तो क्यों। अब तक विभिन्न एजेंसियों व संगठनों की रिपोर्टों के अलावा प्रत्याशियों से बातचीत कर निकलने वाले आंकड़ों के आधार पर राष्ट्रीय स्तर पर भी प्लान बनेगा।

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के बीते 4 दशक के इतिहास पर नजर डालें तो कोई भी पार्टी लगातार 2 बार सत्ता हासिल नहीं कर सकी है। सीएम जयराम ठाकुर ने साल 2022 के विधानसभा चुनाव में मिशन रिपीट का नारा दिया है। इससे पहले वीरभद्र सिंह और प्रो प्रेम कुमार धूमल भी यह नारा दे चुके हैं, लेकिन सफल नहीं हो सके। ऐसे में इस बार भी मिशन रिपीट करना भाजपा के सामने चुनौती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है