Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,437,535
मामले (भारत)
228,638,789
मामले (दुनिया)

हिमाचल के जिस दर्रे को पैदल पार करना भी मुश्किल, उसे साइकिल से लांघा- रिकार्ड का दावा

हिमाचल के जिस दर्रे को पैदल पार करना भी मुश्किल, उसे साइकिल से लांघा- रिकार्ड का दावा

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल प्रदेश के 6 लोगों ने चंबा जिला के साच पास ( Saach Pass) को साइकिल पर सवार होकर पार करने का नया रिकार्ड ( New Record)बनाया है। हालांकि 6 में से सिर्फ 2 लोग ही अपनी यात्रा को पूरा कर पाए, लेकिन दर्रे को लांघने में सभी को सफलता मिली है। आईएएस अधिकारी संदीप कुमार( IAS officer Sandeep Kumar)  मंडी जिला निवासी फोटो जर्नलिस्ट जसप्रीत पाल, ऊना जिला निवासी जसवीर सिंह, जगतार सिंह, राजेंद्र मनन और डॉ. रोहित ने 29 अगस्त को मनाली से चंबा के लिए बाया साच पास साइकिल पर अपनी यात्रा को शुरू किया। पांचवे दिन यानी 2 सितंबर को ये सभी साच पास से होते हुए चंबा जिला मुख्यालय (Chamba District Headquarters) पहुंचे और अपनी 372 किमी की यात्रा को साइकिल के माध्यम से पूरा किया। मंडी जिला निवासी जसप्रीत पाल ने बताया कि साच पास पहुंचने में उन्हें काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा क्योंकि वहां ऑक्सीजन की बहुत ज्यादा कमी थी। 4550 मी की ऊंचाई पर साइकिल को पैडल से हांकते वक्त ऐसा लग रहा था कि शरीर साथ नहीं दे रहा है, लेकिन सभी ने हिम्मत बनाए रखी और साच पास पहुंचते ही सभी की थकान गायब हो गई। वहां साइकिल से पहुंचना अपने आप में बड़ी बात थी और यह सभी के लिए गौरवांवित करने वाला पल था।


बता दें कि जसप्रीत पाल इससे पहले निजी  कंपनी द्वारा आयोजित राष्ट्रीय साइक्लिंग प्रतियोगिता को जीत चुके हैं और हाल ही में आईएएस अधिकारी संदीप कुमार के साथ चंद्रताल तक की यात्रा को भी साइकिल से पूरा कर चुके हैं। इन दोनों ने उसी दौरान साच पास होकर चंबा जाने की ठान ली थी, जिसे अब इन्होंने पूरा करके दिखाया है। इस बार इन दोनों ने पर्यावरण संरक्षण, फिट इंडिया मूवमेंट और पर्यटन को बढ़ावा देना अपनी इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य बनाया। इन्होंने रास्ते में फैंका गया कचरा भी एकत्रित किया। जसप्रीत पाल ने बताया कि चंबा पहुंचकर उन्हें मालूम हुआ कि साच पास को आज दिन तक किसी ने भी साइकिल से नहीं लांघा है।

 

कुछ वर्ष पूर्व एक व्यक्ति ने इसकी कोशिश की थी लेकिन वो साच पास तक नहीं पहुंच सका था। इन्होंने इसकी सारी जानकारी जुटा ली है और अब यह अपने इस रिकार्ड को दर्ज करवाने की दिशा में आगे बढ़ने जा रहे हैं। बता दें कि यात्रा 6 लोगों ने शुरू की थी लेकिन तीसा के पास चार लोगों ने किन्हीं कारणों से इसे बीच में ही छोड़ दिया जबकि संदीप कुमार और जसप्रीत पाल ने इसे चंबा तक पूरा किया।- निश्चित तौर पर यह एक कठिन और जोखिम भरी यात्रा कही जा सकती है। क्यांेकि साच पास जैसे दर्रे पर ऑक्सीजन की इतनी अधिक कमी होती है कि वहां पर पैदल चलना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे में इन्होंने साइकिल के माध्यम से उसे पार करके नया कीर्तिमान स्थापित किया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है