Covid-19 Update

2,27,093
मामले (हिमाचल)
2,22,422
मरीज ठीक हुए
3,830
मौत
34,580,832
मामले (भारत)
262,061,063
मामले (दुनिया)

जीवन के शेष दिन धर्मशाला में बिताना चाहता हूं: दलाई लामा

बोले,भारत में पूर्ण रूप से स्वतंत्रता

जीवन के शेष दिन धर्मशाला में बिताना चाहता हूं: दलाई लामा

- Advertisement -

मैक्लोडगंज। तिब्बती धर्मगुरू दलाई लामा चाहते हैं कि उनके जीवन के शेष बचे दिन धर्मशाला में ही बीते। उन्हें लगता है कि धर्मशाला की आबोहवा व भौगोलिक परिस्थितियां उनके अनुकूल हैं। दलाई लामा ने ये बात आज अपने मैक्लोडगंज स्थित अस्थायी निवास स्थान में ऑनलाइन माध्यम से जापान के फारन कोरेसपोंडेंटस क्लब ऑफ तिब्बत हाउस द्वारा आयोजित व्याखान के दौरान कही। इस दौरान उन्होंने कई सवालों के जवाब भी दिए।

यह भी पढ़ें: धर्मगुरु दलाई लामा ने केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए प्रार्थना की, सीएम विजयन को लिखा पत्र

इसी दौरान दलाई लामा (Dalai Lama) ने कहा कि उनके स्वास्थ्य के लिए ये जगह बहुत अच्छी है। यहां पर बर्फ से लदे पहाड़ हैं,कुछ झीलें भी हैं,इसलिए ही उन्हें ये जगह बेहद पसंद है। दलाई लामा का कहना है कि जब वह तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह से मिले थे तो कहा था कि वह भारत (India) में ही रहना चाहते हैं,क्योंकि भारत में उनको पूर्ण रूप से स्वतंत्रता है। भारत में धार्मिक सद्भावना है। दलाई लामा ने कहा कि अगर सिद्धांतों की बात की जाए तो भारत उनके लिए बहुत अनुकूल जगह है। उन्होंने कहा कि शांति व आंतरिक शांति के लिए जो सहयोग कर सकता हूं वह मैं करता रहूंगा। यहीं नहीं संस्कृति को भी आगे बढ़ाने का प्रयास करता रहूंगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है