Covid-19 Update

3,09, 058
मामले (हिमाचल)
302, 833
मरीज ठीक हुए
4168
मौत
44,314,618
मामले (भारत)
599,293,153
मामले (दुनिया)

पंचतत्व में विलीन हुए करसोग के पूर्व विधायक मस्तराम, बेटों ने दी मुखाग्नि

विधायक हीरालाल सहित सैंकड़ों लोगों ने नम आंखों से दी अपने प्रिय नेता को अंतिम विदाई

पंचतत्व में विलीन हुए करसोग के पूर्व विधायक मस्तराम, बेटों ने दी मुखाग्नि

- Advertisement -

करसोग। मंडी जिला की करसोग विधानसभा क्षेत्र से दो बार कांग्रेस के विधायक रह चुके मस्तराम (Former MLA Mastram) मंगलवार को अपने पैतृक गांव निहरी में पंचतत्व (Cremated) में विलीन हो गए। मस्तराम को उनके बेटों ने मुखाग्नि दी। करसोग के विधायक हीरालाल ने पूर्व विधायक मस्तराम को श्रद्धांजलि अर्पित की। इससे पहले उनकी पार्थिव देह जब उनके पैतृक गांव निहरी पहुंची तो हर आंख नम थी। सरल और सपष्टवादी छवि के अपने नेता को अंतिम विदाई देने के लिए भारी बारिश के बीच लोगों का हुजूम उमड़ा। इस अवसर पर सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र के विधायक राकेश जंवाल, पूर्व विधायक सोहन लाल ठाकुर सहित पूर्व मंत्री रूप सिंह ठाकुर सहित प्रदेश के तमाम नेताओं ने मस्तराम के निधन पर दुख व्यक्त किया।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: करसोग के पूर्व विधायक मस्त राम ने की आत्महत्या, होटल के कमरे में फंदे पर झूलता मिला शव

बता दें कि सोमवार को करसोग (Karsog) विधानसभा क्षेत्र से दो बार कांग्रेस (Congress) पार्टी के विधायक रह चुके मस्त राम ने नगर परिषद सुंदरनगर के एक निजी होटल में पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी थी। मामले की सूचना होटल के मालिक द्वारा पुलिस थाना को दी गई। इसके उपरांत जांच के लिए डीएसपी सुंदरनगर दिनेश कुमार के नेतृत्व में होटल पहुंची पुलिस थाना बीएसएल कॉलोनी और सुंदरनगर की टीमों ने मौके से सुसाइड नोट बरामद किया है। पुलिस द्वारा मामले में आरएफएसएल मंडी की फॉरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाकर जांच अमल में लाई गई।

सुबह 10:30 बजे पी चाय और लगा लिया फंदा

पुलिस के अनुसार पूर्व विधायक रविवार शाम 4:15 पर होटल में रहने पहुंचे थे। होटल की रिसेप्शन पर उन्होंने एंट्री के समय अपने आप को शिक्षक बताया था। सोमवार सुबह 10:30 बजे चाय पी, जिसके बाद वह कमरे से बाहर नहीं निकले। एक बजे होटल का कर्मचारी कमरे में गया तो उसने पूर्व विधायक को फंदे से लटका हुआ पाया। कमरे को अंदर से किसी भी प्रकार की कुंडी नहीं लगी हुई थी और कागज को दरवाजे पर फंसा कर बंद किया गया था।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है