Covid-19 Update

3,09, 058
मामले (हिमाचल)
302, 833
मरीज ठीक हुए
4168
मौत
44,314,618
मामले (भारत)
599,293,153
मामले (दुनिया)

बागवानों पर सरकार मेहरबान, अब मार्केट से खरीदे कॉटनों पर जीएसटी में मिलेगा छह फीसदी उपदान

सचिव आरडी धीमान की अध्यक्षता में हुई कमेटी की मीटिंग में लिया गया अहम फैसला

बागवानों पर सरकार मेहरबान, अब मार्केट से खरीदे कॉटनों पर जीएसटी में मिलेगा छह फीसदी उपदान

- Advertisement -

शिमला। सेब कॉर्टनों की कीमत बढ़ने से सेब उत्पादक काफी नाराज चल रहे हैं। इसके लिए वे प्रदर्शन भी कर चुके हैं। अब चुनाव सिर पर हैं तो सरकार किसी को नाराज नहीं करना चाहती। अब हिमाचल के बागवानों के लिए एक राहत भरी खबर है। इसके तहत प्रदेश में अब सभी बागवानों को एचपीएमसी (HPMC) और हिमफेड ही छह फीसदी उपदान नहीं देंगे बल्कि अब बाजार से सेब कार्टन और ट्रे खरीदे जाने पर भी जीएसटी (GST) में छह प्रतिशत उपदान दिया जाएगा। यह उपदान तब मिलेगा जब खरीद अप्रैल 2022 के बाद की गई हो। ज्ञात रहे कि कार्टन और ट्रे पर 18 फीसदी जीएसटी है। अब छह फीसदी जीएसटी का बहन राज्य सरकार करेगी। सरकार ने अब दवाओं के लिए पुरानी व्यवस्था ही बहाल कर दी है। इस संबंध में मुख्य सचिव आरडी धीमान (RD Dhiman) की अध्यक्षता में सचिवों की कमेटी बनाई गई थी। इस कमेटी की शनिवार को सचिवालय में मीटिंग हुई थी। इस मीटिंग में ही ये अहम फैसले लिए गए। वहीं राज्य में बागवानी बोर्ड भी गठित किया जा सकता है। सरकार इस मामले पर मंथन कर रही है।

यह भी पढ़ें:हमें महंगे सेब कॉर्टन मंजूर नहीं, सैकड़ों बागवानों ने सरकार को चेताया

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में यह निश्चित किया गया कि जीएसटी पर यह छह प्रतिशत का उपदान प्रदेश सरकार के बागवानी विभाग और एचपीएमसी देंगे। इसके बागवानों को संबंधित विभाग में जाकर एक प्रारूप पर आवेदन देना पड़ेगा। इस प्रारूप के साथ जीएसटी बिल की कॉपी, ब्रिका का प्रमाण पत्र या परिवहन वस्तु रसीद अथवा बाजार के मूल्य की प्रति देनी होगी। सरकार यह उपदान उनके आधार युक्त बैंक खातों में एचपीएमसी के माध्यम से ट्रांसफर करेगी।

यह उपदान एचपीएमसी द्वारा सेल किए गए कॉटनों और ट्रे पर भी मिलेगा। जीएसटी का सारा खर्च सरकार ही वहन करेगी। इस मीटिंग में वित्त, आबकारी एवं कराधान (excise and taxation) , उद्यान, कृषि और सहकारिता विभाग के प्रशासनिक सचिव ने हिस्सा लिया। वहीं सरकार ने एचपीएमसी को निर्देश दिए हैं कि इस बार के सेब सीजन में एक करोड़ पेटियों की पैकेजिंग सामग्री का आवंटन करना है। अतः इसके लिए समय रहते ही तैयारी कर ली जाए। क्योंकि बागवानों को किसी भी प्रकार असुविधा का सामना न करना पड़े। वहीं मुख्य सचिव ने बागवानी विभाग को निर्देश दिए हैं सरकार ने 8.65 करोड़ रुपए जारी किए हैं। अतः इस पैसे को जल्द से जल्द बागवानों को भुगतान किया जाए। वहीं 2021 तक एमआईएस की अदायगी को निपटा दिया जाए। सरकार आगे बजट देगी।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है