×

Himachal: गोदी मीडिया पर मचा बवाल, बाली को हाथ जोड़कर मांगनी पड़ी माफी-जाने मामला

पत्रकारों के सवाल पर तिलमिलाए बाली, कार्यकर्ता ने बोला गोदी मीडिया- भड़के पत्रकार

Himachal: गोदी मीडिया पर मचा बवाल, बाली को हाथ जोड़कर मांगनी पड़ी माफी-जाने मामला

- Advertisement -

मंडी। पूर्व मंत्री एवं मंडी नगर निगम चुनाव के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए जीएस बाली (GS Bali) को शनिवार को पत्रकार वार्ता में पत्रकारों से हाथ जोड़कर माफी (Apologize) मांगनी पड़ी। कारण, उनके किसी एक कार्यकर्ता द्वारा पत्रकार वार्ता में पत्रकारों को गोदी मीडिया कहना था। दरअसल नगर निगम चुनाव को लेकर जीएस बाली आज मंडी (Mandi) आए हुए थे और इसी संदर्भ में पत्रकार वार्ता भी बुलाई थी। पत्रकारों ने कुछ सवाल किए तो बाली उसपर तिलमिला गए। तीखे सवालों को सुनकर पत्रकार वार्ता में मौजूद कुछ कार्यकर्ताओं ने धीरे से गोदी मीडिया (Media) कह दिया। यह बात पत्रकारों ने सुन ली और तुरंत प्रभाव से विरोध जता दिया। जिन्होंने गोदी मीडिया (Godi Media) कहा था वो विरोध देखते ही पत्रकार वार्ता से खिसक गए। ऐसे में बाली को पत्रकारों से हाथ जोड़कर माफी मांगनी पड़ी।


यह भी पढ़ें: बाली बोले- CU नियुक्तियों में हुई अनियमितता, हो CBI या ज्यूडिशियल जांच

 

 

उन्होंने पत्रकारों को यह भी आश्वस्त किया कि भविष्य में ऐसी गलती दोबारा नहीं होगी। वहीं कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पूर्व मंत्री प्रकाश चौधरी ने भी हाथ जोड़कर पत्रकारों से माफी मांगी और खेद जताया। इसके बाद सभी पत्रकार कक्ष से बाहर आ गए और पत्रकार वार्ता को वहीं समाप्त कर दिया गया। बता दें कि आयोजित पत्रकार वार्ता में कांग्रेस (Congress) के पदाधिकारियों के अलावा दर्जनों कार्यकर्ता पत्रकार वार्ता वाले कक्ष में पहुंच गए। माहौल ऐसा हो गया था कि यह पत्रकार वार्ता कम और कांग्रेस की बैठक ज्यादा प्रतीत हो रही थी। इससे पहले भी कांग्रेसी नेताओं की पत्रकार वार्ताओं में ऐसा ही होता रहता है। शायद कांग्रेसी नेताओं (Congress leaders) में अनुशासन की कमी के कारण यह सब हो रहा है। हालांकि बाली ने पत्रकारों को आश्वस्त किया है, लेकिन यह भविष्य में ही पता चल पाएगा कि पार्टी में अनुशासन कायम रहता है या फिर नहीं।

सांसद रामस्वरूप शर्मा के घर पहुंचे जीएस बाली

इससे पहले पूर्व मंत्री जीएस बाली शनिवार को सांसद रामस्वरूप के जोगेंद्रनगर स्थित घर पर पहुंचे। उन्होंने उनके परिवार से अपनी संवेदनाएं व्यक्त की। उन्होंने कहा कि रामस्वरूप शर्मा जैसे सज्जन राजनेता का इस तरह से चले जाना बहुत शोक और दुख का विषय है, परिवार के साथ.साथ पूरे क्षेत्र और प्रदेश के लिए यह अपूर्णीय क्षति है। बता दें कि 17 मार्च को हिमाचल प्रदेश के मंडी से सांसद का शव दिल्ली स्थित उनके आवास पर फंदे से लटका मिला था। इसके बाद मंडी संसदीय क्षेत्र के सांसद रामस्‍वरूप शर्मा को दिल्‍ली के राममनोहर लोहिया अस्‍पताल में ले जाया गयाए जहां उन्‍हें मृत घोषत किया गया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है