Covid-19 Update

58,457
मामले (हिमाचल)
57,233
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,045,587
मामले (भारत)
112,852,706
मामले (दुनिया)

Shimla : जुब्बल में 32 कमरों के चार मंजिला मकान में लगी भीषण आग, सब कुछ जलकर राख

कड़ाके की ठंड में खुले आसमान के नीच आ गया iwjk परिवार

Shimla : जुब्बल में 32 कमरों के चार मंजिला मकान में लगी भीषण आग, सब कुछ जलकर राख

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल की राजधानी शिमला के साथ लगते जुब्बल में 32 कमरों के एक चार मंजिला मकान जलकर राख हो गया। हादसा बुधवार शाम के समय जुब्बल तहसील के तहत प्रोंठी गांव में हुआ। आग ने कुछ ही देर में पूरे घर को अपनी चपेट में ले लिया और देखते ही देखते सारा मकान आग की भेंट चढ़ गया है। अग्निकांड में पचास लाख रुपये से अधिक के नुकसान का अनुमान लगाया गया है। हालांकि, आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। मिली जानकारी के अनुसार 32 कमरों के चार मंजिला मकान (four-storey house) में बुधवार शाम करीब साढे़ चार बजे के आसपास आग लग गई। आग (Fire) की घटना के समय घर पर कोई नही था। घर के सभी सदस्य घर से बाहर थे। आसपड़ोस के लोगों ने घर से धुआं उठता हुआ देखा और इसकी सूचना अग्निशमन केंद्र को दी।

 

 

यह भी पढ़ें: Una : बीच सड़क चलती नैनो कार जब धू-धू कर लगी जलने, चालक ने कैसे बचाई जान-पढ़ें

सूचना मिलने के बाद दमकल वाहन मौके पर पहुंचा और स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाने का प्रयास किया। बताया जा रहा है कि मकान में अधिकतर लकड़ी का इस्तेमाल होने के चलते आग तेजी से फल रही थी। जिसके चलते दमकल कर्मचारियों को आग बुझाने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। इमारती लकड़ी से बना मकान देखते ही देखते आग की लपटों में घिर गया। मकान में 32 कमरे थे, जो पूरी तरह से जलकर राख हो गए हैं। मकान में यशवंत नेगी पुत्र रोशन लाल नेगी परिवार सहित रहते थे। उधर, अग्निशमन केंद्र रोहड़ू (Fire Station Rohru) के प्रभारी लायक राम शर्मा ने बताया कि आग की घटना में 50 लाख रुपये से अधिक का नुकसान आंका जा रहा है। आग बुझा दी गई है। अग्निकांड से प्रभावित परिवारों की सारी जिंदगी की पूंजी पल भर में राख के ढेर में बदल गई है। वहींए अब कड़ाके की ठंड में सारा परिवार खुले आसमान के नीच आ गया है।

 

कुल्लू के बंजार में 2 मंजिला लकड़ी का मकान जलकर हुआ राख

कुल्लू। बंजार उपमंडल के तीर्थन घाटी की ग्राम पंचायत पेखड़ी के नाहीं गांव के साथ लगते नारायण देहुरा में दिन के समय बुध राम पुत्र हुकम चन्द के दो मंजिला रिहायशी मकान में अचानक आग लग गई। अग्निकांड के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। इस आगजनी की घटना से दो मंजिला लकड़ी का मकान जलकर राख हो गया है। इस गांव में अभी तक सड़क सुविधा नही है। ऐसे में स्थानीय लोगों ने अग्निशमन विभाग को इसकी सूचना नहीं दी। वहीं, ग्रामीणों ने आग को बुझाने के लिए कड़ी मशक्कत की, लेकिन लकड़ी का मकान पूरी तरह से जलकर राख हो गया है। एसडीएम बंजार हेमराज वर्मा ने बताया कि राजस्व विभाग के पटवारी को मौके पर नुकसान के आकलन के लिए भेजा गया है। पीड़ित परिवार को 10000 की फौरी राहत दी जा रही है। उन्होंने कहा कि नुकसान का आंकलन किया जा रहा है। ऐसे में पीड़ित परिवार को राहत मैनुअल के हिसाब से जल्द पूरा मुआवजा दिया जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है