Covid-19 Update

2,26,859
मामले (हिमाचल)
2,22,190
मरीज ठीक हुए
3,825
मौत
34,555,431
मामले (भारत)
260,661,944
मामले (दुनिया)

हिमाचल में कांग्रेस ने शिमला में मनाया जश्न, बोले-हार के बाद बीजेपी आई जमीन पर

आंदोलन में शहीद हुए किसानों की आत्मा का शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा

हिमाचल में कांग्रेस ने शिमला में मनाया जश्न, बोले-हार के बाद बीजेपी आई जमीन पर

- Advertisement -

शिमला। केंद्र सरकार द्वारा तीनों कृषि कानून वापस लेने की घोषणा बाद कांग्रेस आज देशभर में किसान विजय दिवस मनाने और विजय रैली करने जा रही है। शिमला में भी कांग्रेस ने इसे किसानों की जीत करार दिया और जश्न मनाकर लड्डू बांटे। कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ता शिमला के शेर ए पंजाब के पास इकट्ठे हुए। इस दौरान कांग्रेस ने सबसे पहले आंदोलन में शहीद हुए किसानों की आत्मा का शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा। उसके बाद लड्डू बांटकर खुशी का इजहार किया।

यह भी पढ़ें: कृषि कानूनों की वापसी के ऐलान पर बॉलीवुड एक्ट्रेस का रिएक्शन

 

 

इस दौरान शिमला ग्रामीण कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष यशवंत छाजटा ने कहा कि उपचनावों में हार के बाद पहले पेट्रोल-डीजल के दाम कम हुए और अब कृषि कानून की वापसी हुई है। उन्होंने कहा कि यह किसानों और कांग्रेस पार्टी की जीत है। राहुल गांधी पहले से इन कानूनों का विरोध कर वापसी की मांग कर रहे थे। छाजटा ने कहा कि इस सरकार की कथनी करनी में अंतर है इसलिए जबतक सदन में इन कानूनों को वापस नहीं लिया जाता । तब तक किसान आंदोलन जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि हार के बाद बीजेपी की तानाशाही जमीन पर आ गई है।दरअसल पेट्रोल-डीजल के दामों के रोलबैक के बाद ये दूसरा बड़ा फैसला है जो केंद्र सरकार ने जनता के विरोध के बाद लिया है। अब मंहगाई समते सभी मुद्दों को कांग्रेस भुनाने की पूरी तैयारी में है।

 

 

ऊना। भारतीय किसान यूनियन टिकैत की ऊना ईकाई ने केंद्र सरकार द्वारा तीनों कृषि वापस लिए जाने के फैसले का स्वागत किया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जब तक इन कानूनों को निरस्त नहीं किया जाता तब तक यूनियन सरकार का यकीन नहीं करेगी। इतना ही नहीं यूनियन ने अभी भी अपने आंदोलन को आगे जारी रखने का ऐलान करते हुए न्यूनतम समर्थन मूल्य की मांग को फिर से दोहराया है। ऊना में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए भारतीय किसान यूनियन टिकैत के जिला संयोजक ब्रजेश शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानून को वापस लिए जाने का फैसला किसानों की बड़ी जीत है। इसके साथ ही उन्होंने जिला स्तर पर किसानों को पेश आ रही समस्याओं को भी उठाया और कृषि विभाग से जल्द गेहूं बीज और खाद की उपलब्धता करवाने की मांग की।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है