Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,617,100
मामले (भारत)
231,605,504
मामले (दुनिया)

मानसून सत्र में प्रश्नकालः हिमाचल में एनपीएस कर्मचारियों को राहत देगी जयराम सरकार

हिमाचल को एक-डेढ़ महीने में मिलेगा बल्क ड्रग पार्क का तोहफा

मानसून सत्र में प्रश्नकालः हिमाचल में एनपीएस कर्मचारियों को राहत देगी जयराम सरकार

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश में न्यू पेंशन स्कीम (NPS) के कर्मचारियों को बीजेपी सरकार राहत दे सकती है। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने आज विधानसभा में कहा कि सरकार एनपीएस के तहत आने वाले कर्मचारियों की मृत्यु अथवा विकलांगता की स्थिति में उनके लिए केंद्र सरकार की 6 मई,2009 की अधिसूचना को लागू करने पर विचार करेगी। सीएम जयराम ने कहा कि ये मामला सरकार के विचाराधीन है और प्रदेश की आर्थिक स्थिति में सुधार होने पर इस मांग को पूरा करने पर विचार किया जाएगा। जयराम ठाकुर विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान माकपा विधायक राकेश सिंघा के सवाल का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि इस अधिसूचना( notification) को पड़ोसी राज्य पंजाब ने लागू नहीं किया है और देश में अभी तक केवल उत्तराखंड, राजस्थान और मध्य प्रदेश ने ही इस अधिसूचना को लागू किया है। उन्होंने कहा कि ये अधिसूचना लागू करना राज्यों की अपनी आर्थिक स्थिति पर निर्भर करता है और हिमाचल इस मामले में पंजाब पर निर्भर नहीं है।

यह भी पढ़ें: वीकेंड पर भी मिलेगी अब सैलरी, पहली से पेंशन और ईएमआई पेमेंट के लागू होंगे नए नियम

सीएम ने कहा कि प्रदेश में 2003 से अब तक 2114 एनपीएस कर्मचारियों की विभिन्न कारणों से मौत हो चुकी है। उन्होंने ये भी कहा कि सरकार ने एनपीएस के तहत दिए जाने वाले अंशदान में चार प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। इसके अलावा मृत्यु होने की स्थिति में ऐसे कर्मचारियों के परिजनों को 10 लाख की ग्रच्युटी का भी प्रावधान किया है। सीएम ने विधायक मुलख राज और जियालाल के एक संयुक्त सवाल के जवाब में कहा कि उतराला-सुराही पास-होली सड़क की डीपीआर (DPR) की स्वीकृति मिलने के बाद इसका निर्माण कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।

दूसरा ग्राउंड ब्रेकिंग समारोह सितंबर में

उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर (Bikram Thakur) ने विधायक राजीव बिंदल और कर्नल इंद्र सिंह के एक संयुक्त सवाल के जवाब में कहा कि हिमाचल को केंद्र से एक-डेढ़ महीने के भीतर बल्क ड्रग पार्क की सौगात मिल जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ग्लोबल इंवेस्टर मीट के तहत दूसरा ग्राउंड ब्रेकिंग समारोह इसी साल सितंबर में आयोजित करने जा रही है जिसमें 10 हजार करोड़ रुपए के औद्योगिक निवेश को जमीन पर उतारा जाएगा। इंवेस्टर मीट की पहली ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में 14500 करोड़ रुपए के निवेश को जमीन पर उतारने के समझौते हुए थे और इनमें से 75 फीसदी उद्योग स्थापित होने शुरू हो गए हैं या इनमें उत्पादन भी शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पिछले तीन सालों में 1452 उद्योग स्थापित हुए हैं। इनमें 1228 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश हुआ है और 10455 लोगों को रोजगार मिला है। स्वास्थ्य मंत्री डा़ राजीव सैजल ने विधायक विक्रम जरयाल के एक सवाल के जवाब में कहा कि सिविल अस्पताल चुवाड़ी की क्षमता 100 बिस्तरों तक करने का मामला सरकार के विचाराधीन है। विधायक बलवीर सिंह (Balbir Singh) के एक सवाल के जवाब में ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि चिंतपूर्णी विधानसभा क्षेत्र के तहत देहड़ी में केंद्रीय कुकुट विकास संगठन एवं प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना के लिए भूमि आबंटित कर दी गई है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है