Covid-19 Update

3,12, 308
मामले (हिमाचल)
3, 07, 991
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44,606,460
मामले (भारत)
625,796,026
मामले (दुनिया)

आवारा पशुओं ने उजाड़े खेत, लंपी वायरस बना पालतू मवेशियों का दुश्मन

अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतरी किसान सभा, प्रशासन को सौंपा मांगपत्र

आवारा पशुओं ने उजाड़े खेत, लंपी वायरस बना पालतू मवेशियों का दुश्मन

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल किसान सभा (Himachal Kisan Sabha) की जिला इकाई ने बुधवार को जिला ऊना मुख्यालय के एमसी पार्क से लेकर डीसी कार्यालय तक रोष रैली निकालकर अपनी मांगों के हक में आवाज उठाई। भारतीय किसान सभा के इकाई अध्यक्ष रणजीत सिंह के नेतृत्व में किए गए विरोध प्रदर्शन के दौरान किसानों ने 10 सूत्रीय मांग पत्र को लेकर सरकार और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं रैली संपन्न होने पर जिला प्रशासन के माध्यम से सरकार को अपना 10 सूत्री मांग पत्र भी भेजा। इसके साथ ही किसानों ने चेतावनी भी दी है कि यदि इन मांगों को लेकर सरकार और प्रशासन दोनों अड़ियल रवैया अपनाते हैं तो उन्हें सड़कों पर उतर कर उग्र प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

यह भी पढ़ें:लंपी वायरस हुआ प्रचंड, अब तक निगल गया 119 पशु

हिमाचल किसान सभा ने बुधवार को अपनी मांगों को लेकर जिला ऊना मुख्यालय (District Una Headquarters) की सड़कों पर उतरकर रोष प्रदर्शन किया वहीं इसी संबंध में रोष रैली निकालते हुए जिला प्रशासन को एक मांग पत्र भी दिया। किसान सभा के अध्यक्ष रणजीत सिंह के नेतृत्व में निकाले गए इस रोष मार्च में सीटू के नेता गुरनाम सिंह, विजय शर्मा, केके राणा और अन्य प्रमुख लोगों ने भी भाग लिया। इस मौके पर किसान सभा की संयुक्त मोर्चा सदस्य नरेंद्र सिंह (Narender Singh) ने कहा कि जिला के किसान आवारा पशुओं की समस्या से जूझ रहे हैंए लेकिन सरकार और प्रशासन इस पर ध्यान नहीं दे रही।

जिला भर में फैली लम्पी स्किन डिजीज नाम की बीमारी को लेकर भी किसान सभा ने पशुपालन विभाग को जमकर आड़े हाथ लिया उन्होंने कहा कि एक तरफ पशु लगातार इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं वहीं दूसरी तरफ पशुपालन विभाग के पास इस बीमारी की रोकथाम के लिए पर्याप्त दवाएं नहीं है। इस मौके पर किसान सभा ने लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में मारे गए किसानों के परिवारों को मुआवजा और नौकरी नहीं दिए जाने को लेकर भी सरकार की जमकर आलोचना की। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने केंद्र सरकार द्वारा आश्वासन के बावजूद एमएसपी पर कोई कसरत नहीं किए जाने को लेकर भी रोष जताया। वही राजस्थान में शिक्षक की पिटाई से छात्र की मौत मामले को लेकर भी किसान सभा ने कड़ी आपत्ति दर्ज करते हुए आरोपी के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग उठाई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है