Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

ये है भूतिया हवेली, यहां रहने वाले लोगों का आज तक नहीं चला पता

किसी आलीशान महल से कम नहीं है ये हवेली

ये है भूतिया हवेली, यहां रहने वाले लोगों का आज तक नहीं चला पता

- Advertisement -

आपने दुनियाभर की तमाम ऐसी हवेलियों के बारे में सुना होगा जो सैकड़ों सालों से वीरान पड़ी हैं। अब लोग उन्हें किसी भूतिया हवेली के रूप में जानने लगे हैं। जहां ना कोई चीज नजर आएगी और ना ही कोई इंसान, लेकिन हम आपको आज एक ऐसी हवेली के बारे में बताने जा रहे हैं जो कई सालों से वीरान तो पड़ी है, लेकिन खाली नहीं है बल्कि इसमें तमाम तरह का ऐशोआराम का सामान आज भी मौजूद है। इस हवेली (Haveli) को बाहर से देखने पर आप भले ही इसे खंडहर समझे, लेकिन अंदर से ये किसी आलीशान महल से कम नहीं है। यहां आज भी हर वो सामान मौजूद है, जिसका इस्तेमाल कोई बेहद अमीर परिवार करता है।

यह भी पढ़ें:यहां जानिए दुनिया के ऐसे रहस्य, जिन्हें सुलझा पाना आज भी टेढ़ी खीर

इस हवेली में शायद ही कोई व्यक्ति रात के वक्त अकेला रह पाए। दरअसल, ‘हर्टफोर्डशायर मैंसन’ नाम की ये हवेली किसी भूतिया हवेली से कम नहीं लगती है। इंग्लैंड (England) में मौजूद इस हवेली में शतरंज और स्नूकर बोर्ड को देखकर आप अनुमान लगा सकते हैं कि कोई इसे खेल रहा था और अचानक से यहां से गायब हो गया या इसे छोड़कर कहीं चला गया और कभी वापस नहीं आया। इसके अलावा इस हवेली के बाहर चार-पांच मंहगी-मंहगी कारें भी खड़ी हैं, लेकिन उन्हें इस्तेमाल करने वाला कोई नहीं है। ये कारें कई सालों से जंग खा रही हैं। ऐसा माना जाता है कि इस हवेली की कीमत करीब आठ करोड़ रुपए होगी।

 

इस हवेली में बेडरूम, छह बाथरूम और चार स्वागत कक्ष है, जिनमें हर तरह की सुविधा मौजूद है। बावजूद इसके यहां कोई नहीं रहता है। ऐसा लगता है जैसे यह सालों से वीरान पड़ी है। इस हवेली को खोजने वाले ने बताया है कि प्रवेश द्वार पूरी तरह से चिट्ठियों से भर गया था, जिसे 2016 से ही किसी ने छुआ तक नहीं था। इसलिए ऐसा लगता है कि यहां रहने वाला परिवार चार साल पहले किसी कारणवश सब कुछ छोड़ कर भाग गया होगा।

यह भी पढ़ें:ये जगह बनीं सबसे ज्यादा पसंदीदा डेस्टिनेशन, जानिए क्या है खासियत

खोजकर्ता के अनुसार, हवेली को देखकर ऐसा लगता है जैसे यहां रहने वाले लोग आधी रात को उठे होंगे और बिना कुछ किए अचानक भाग गए होंगे। जिस तरह से बेडरूम में कपड़े रखे हुए है। उससे तो यही लगता है कि वे यहां से एक बैग तक नहीं लेकर गए हैं। इस हवेली में आपको घर कमरे में इस्तेमाल करने का सामान मिल जाएगा। किचन में वो सामान मौजूद है, जिसका इस्तेमाल कोई परिवार करता है। बाथरूम में हर चीज ज्यों की त्यों रखी है।


खोजकर्ता ने बताया कि उन्होंने सोचा कि यहां रहने वाले लोग रुसी थे, लेकिन भूमि रजिस्ट्री दस्तावेजों से पता चलता है कि हवेली अब ऐनहर्स्ट एंटरप्राइजेज के स्वामित्व में है। ये हवेली अब एक सवाल बन गई है कि यहां रहने वाले लोग अचानक ही क्यों घर छोड़ कर भागे और वो भी इतनी तेजी में कि वो अपना कुछ सामान भी लेकर नहीं गए हैं। इस बार में अभी तक कोई ठोस सबूत नहीं मिले हैं कि आखिरी इसमें रहने वाले लोग कहां गायब हो गए हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है