Covid-19 Update

1,99,467
मामले (हिमाचल)
1,92,819
मरीज ठीक हुए
3,404
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

HRTC के कर्मियों और पेंशनरों को इसी माह होगा मेडिकल बिलों का भुगतान

हिमाचल में बसें चलाने को लेकर कैबिनेट में लिया जाएगा फैसला

HRTC के कर्मियों और पेंशनरों को इसी माह होगा मेडिकल बिलों का भुगतान

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने एचआरटीसी (HRTC) कर्मचारियों और पेंशनरों के लंबित भत्तों का चरणबद्ध तरीके से भुगतान कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि एचआरटीसी के कर्मचारियों व पेंशनरों (Pensioners) के चिकित्सा प्रतिपूर्ति बिलों (Medical Reimbursement Bills) का भुगतान इसी माह में कर दिया जाएगा। यह राशि 6 करोड़ से अधिक की बनती है। सीएम जयराम ठाकुर ने आज चंडीगढ़ (Chandigarh) जाने से पहले यहां एचआरटीसी की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि एचआरटीसी कर्मियों को समय पर वेतन का भुगतान भी सुनिश्चित करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड (Covid) काल में एचआरटीसी को करीब 259 करोड़ की अतिरिक्त मदद सरकार द्वारा दी गई है। उन्होंने कहा कि बैठक में परिवहन विभाग से जुड़ी सीएम घोषणों को लेकर भी चर्चा हुई। जो काम पेंडिंग पड़े हैं उन्हें शीघ्र पूरा करने के लिए कहा है, ताकि समय रहते ये लोगों कोस समर्पित किए जा सकें। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल में आगे बसें चलेंगी या नहीं, इस बारे फैसला कल होने वाली कैबिनेट (Cabinet) की बैठक में लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Himachal: टूरिज्म व्यवसाय से जुड़े लोगों को कैबिनेट से उम्मीद, चाहते हैं ये राहत

 


परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर (Transport Minister Bikram Singh Thakur) ने बताया कि एचआरटीसी को वर्ष 2020-21 के लिए 592 करोड़ रुपये का बजट प्राप्त हुआ है। इसमें करीब 259 करोड़ अतिरिक्त राशि प्राप्त हुई है और इस वर्ष 371 करोड़ के करीब बजट मिला है। उन्होंने कहा कि एचआरटीसी में स्टाफ की कमी को देखते हुए पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू की है। अभी 891 विभिन्न श्रेणी के पदों पर भर्ती प्रक्रिया चली हुई है। इसमें 662 परिचालकों की भर्ती शामिल है। उन्होंने बताया कि जयराम सरकार के कार्यकाल में 1,088 टीएमपीएम के अलावा चालकों, परिचालकों व अन्य वर्गों के करीब 192 पदों पर भर्ती की गई है। एचआरटीसी के बेड़े में नई बसों को शामिल किया जाएगा, ताकि लोगों की यात्रा सुगम हो सके। निजी बस ऑपरेटरों को लेकर उन्होंने कहा कि इस बारे कैबिनेट में चर्चा की जाएगी। देखा जाएगा कि कैसे राहत प्रदान की जा सकती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है