Covid-19 Update

2, 45, 811
मामले (हिमाचल)
2, 29, 746
मरीज ठीक हुए
3880*
मौत
5,565,748
मामले (भारत)
331,807,071
मामले (दुनिया)

हिमाचलः बर्फबारी में फंसे 100 से ज्यादा पर्यटक, ऐसे बचाई इनकी जान

लाहुल के सिस्सु क्षेत्र में ताजा हिमपात, टनल के दक्षिण पोर्टल में दस इंज गहरी बर्फ

हिमाचलः बर्फबारी में फंसे 100 से ज्यादा पर्यटक, ऐसे बचाई इनकी जान

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल में पिछले कुछ दिनों से बर्फबारी (Snowfall) का दौर चला हुआ है। न्यू ईयर (NewYear) और बर्फबारी देखने के लिए आए लोग इस सफेद आफत में फंस कर परेशान हो रहे हैं। ऐसा ही मंजर अटल टनल के पास देखने को मिला। यहां फंसे 100 से भी ज्यादा लोगों का रेस्क्यू (Rescue) कर मनाली भेजा गया। अटल टनल के पास पांच फीट के करीब बर्फबारी हुई है। शनिवार को लाहुल (Lahul) के सिस्सु क्षेत्र में हिमपात हो रहा है। लगभग 2 इंच ताजा बर्फ गिरी है। वहीं, अटल टनल के दक्षिण पोर्टल की ओर बर्फ की गहराई लगभग 10 इंच है। बर्फबारी के चलते यह मार्ग बंद हो गया हैं।

यह भी पढ़ें:भारी बर्फबारी के बीच लाहुल में फंसे 90 सैलानी, एक महिला मरीज भी शामिल

बिजली-पानी की समस्या से जूझ रहे लाहुलवासी

लाहुल-स्पीति घाटी में बर्फबारी के चलते लोगों की मुश्किलें बढ़ गई है। लाहुल घाटी बर्फ की सफेद चादर से ढक चुकी है। कई जगहों पर बिजली (Lightning) व पानी की समस्या पेश आ रही है। भारी बर्फबारी के कारण घाटी कड़ाके की ठंड की चपेट में आ चुकी है, जिसके चलते जगह-जगह पानी की पाइप क्षतिग्रस्त हुई है, तो कई जगहों पर पानी की पाइप ठंड के कारण जम चुकी है। इस संबंध में लाहुल-स्पीति के डीसी (DC) नीरज कुमार का कहना है कि बिजली व पानी (Water) की व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए कर्मचारी (Staff) बर्फबारी के बीच भी काम कर रहे हैं, ताकि लोगों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े। खराब मौसम के बीच भी लोगों को सभी प्रकार की सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही है।

 

होटल के आसपास ही बर्फबारी का आनंद लें पर्यटक

हिमाचल (Himachal) में मौसम कड़े तेवर दिखा रहा है। लाहुल-स्पीति जिला में भारी बर्फबारी हो रही है। अटल टनल के साउथ पोर्टल व सोलंगनाला (Solanganala) में भारी बर्फबारी हो रही है। बर्फ के फाहे जितने आकर्षक हैए उतने खतरनाक भी हैं, इसलिए पर्यटक सतर्क रहें और कुछ एक बातों का ध्यान रखें। अगर आप सुरक्षित मनाली पहुंच गए हैं और मनाली में ही बर्फ़बारी हो रही है तो ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जाने का जोखिम न उठाएं। होटलों (Hotel) के प्रांगण या आसपास ही बर्फ के फाहों का आनंद उठाएं और अटल टनल की ओर जाने के लिए मौसम साफ होने का इंतजार करें। बर्फ़बारी के दौरान वाहन स्किड होने का खतरा अधिक रहता है और ट्रैफ़िक जाम की समस्या भी रहती है।

 

टैक्सी यूनियन ने भी की अपील

होटल से बहार जाना ही चाहते हैं तो नेहरुकुंड (Nehru Kund) से आगे जाने का तो बिल्कुल भी जोखिम न उठाएं। कुछ एक वाहन चालक अपनी कमाई के चक्र में फोर व्हील ड्राइव वाहनों का हवाला देकर लाहुल जाने को प्रोत्साहित कर रहे हैं। बर्फ़बारी अधिक होने की सूरत में इस तरह का जोखिम बिल्कुल न उठाएं। नहीं तो कुछ दिन वहीं रहना पड़ सकता है। यह कहना था हिम आंचल टैक्सी आपरेटर यूनियन (Him Aanchal Taxi Operator Union) मनाली का। यूनियन का कहना था कि पर्यटक उन्हीं से वाहन किराए पर लें। इससे आपको यह फायदा होगा कि एक तो चालक सीमित किराया ही लेगा और दूसरा लालच के चक्र में आपकी जान जोखिम में नहीं डालेगा। अधिकतर फ़ॉर व्हील निजी वाहन चालक ही पर्यटकों को गुमराह करते देखे जा रहे हैं, इसलिए पर्यटक वाहन को ही प्राथमिकता दें।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है