×

पूजा भट्ट की ‘Bombay Begums’ मुश्किल में, NCPCR ने स्ट्रीमिंग रोकने के लिए नेटफ्लिक्स को भेजा नोटिस

सीरीज में बच्चों का अनुचित तरीके से चित्रण करने का आरोप

पूजा भट्ट की ‘Bombay Begums’ मुश्किल में, NCPCR ने स्ट्रीमिंग रोकने के लिए नेटफ्लिक्स को भेजा नोटिस

- Advertisement -

मुंबई। पूजा भट्ट स्टारर नेटफ्लिक्स की बेव सीरीज बॉम्बे बेगम्स (Bombay Begums) पर खतरे के बादल मंडराने लगे हैं। ये सीरीज अपने कंटेट को लेकर विवाद में पहले से ही है लेकिन अब इस पर कड़ा एक्शन भी लिया जा सकता है। ये सीरीज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) के मौके पर रिलीज हुई थी। बॉम्बे बेगम्स 5 महिलाओं की जिंदगी की कहानी है। इस सीरीज का निर्देशन अलंकृता श्रीवास्तव ने किया है। इस सीरीज में बच्चों का अनुचित तरीके से चित्रण करने का आरोप लगाया गया है। इस आरोप के बाद राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने इस वेब सीरीज की स्ट्रीमिंग को रोकने की मांग की है।


यह भी पढ़ें: कंगना रनौत छोड़ चुकी थी एक्टिंग, Queen फिल्म ने बदल दी अभिनेत्री की पूरी जिंदगी

NCPCR बाल अधिकारों के संरक्षण के लिए सबसे उच्च निकाय है। NCPCR ने वेब सीरीज की स्ट्रीमिंग को रोकने के लिए नेटफ्लिक्स को नोटिस भेजा है। NCPCR ने ओटीटी प्लेटफॉर्म नेटफ्लिक्स को 24 घंटे के अंदर एक विस्तृत रिपोर्ट पेश करने को कहा है। आयोग का कहना है कि ऐसा नहीं करने पर वह उचित कानूनी कार्रवाई शुरू करने के लिए मजबूर होंगे।
आयोग ने एक शिकायत के आधार पर नेटफ्लिक्स को नोटिस भेजा है। शिकायत (Complaint) में आरोप लगाया गया था कि इस सीरीज में नाबालिगों का कैजुअल सेक्स और मादक पदार्थों का सेवन करते दिखाया गया है। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने सीरीज में बच्चों के कथित अनुचित चित्रण पर आपत्ति जताते हुए कहा कि इस प्रकार के कंटेंट से ना केवल युवाओं के दिमाग पर बुरा असर पड़ेगा, बल्कि इससे बच्चों के साथ दुर्व्यवहार और शोषण भी हो सकता है।

आयोग के नोटिस में कहा गया है, “नेटफ्लिक्स को बच्चों के संबंध में या बच्चों के लिए किसी भी सामग्री को स्ट्रीम करते समय अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए। आपको इस मामले को देखने के लिए आदेश दिया जाता है और तुरंत इस सीरीज की स्ट्रीमिंग रोक दी जाए और 24 घंटों के भीतर एक विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए। अगर ऐसा नहीं होता है, तो आयोग को सीपीसीआर अधिनियम, 2005 की धारा 14 के प्रावधानों के तहत उचित कार्रवाई के लिए बाध्य किया जाएगा।”

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है