Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,557,583
मामले (भारत)
230,543,349
मामले (दुनिया)

लाहुल के तोजिंग नाले में लापता 3 का कोई सुराग नहीं, खोजी कुत्ते बुलाए गए

सीएम जयराम ठाकुर लाहुल घाटी के प्रभावित क्षेत्रों का मुआयना करने पहुंचे

लाहुल के तोजिंग नाले में लापता 3 का कोई सुराग नहीं, खोजी कुत्ते बुलाए गए

- Advertisement -

केलांग। लाहुल-स्पीति के तोजिंग नाले में लापता 3 लोगों का आज पांचवे दिन भी कोई अता-पता नहीं चल पाया है। अब इन लापता लोगों की खोज के लिए खोजी कुत्ते बुलाए गए हैं। उन्हीं की मदद से सर्च अभियान चलाया जाएगा। इसी बीच, सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) भी आज लाहुल घाटी के प्रभावित क्षेत्रों का मुआयना करने पहुंच गए हैं। सीएम जयराम शांशा नाला पहंुचे जहां बाढ़ के कारण सड़क को भारी नुकसान पहुंचा है और कई पुलों को क्षति पहुंची है। उन्होंने सीमा सड़क संगठन के अधिकारियों से पुल के शीघ्र पुनर्निर्माण के संबंध में चर्चा की। बीआरओ के अधिकारियों ने उन्हें अवगत करवाया कि पुल निर्माण के लिए मशीनरी तैनात की दी गई है और पानी का बहाव कम होते ही इसके निर्माण का कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।

 

जय राम ठाकुर उदयपुर क्षेत्र की पट्टन घाटी से सुरक्षित बचाए गए लोगों से मिले और उनका कुशलक्षेम जाना। तोजिंग नाला में बहे दस लोगों में से सात के शव बरामद किए जा चुके हैं जबकि बाकी तीन लोगों को ढूंढने के प्रयास जारी हैं। उन्होंने पानी के बहाव में बह गए एक व्यक्ति मीन सिंह बहादुर की पत्नी से भी बातचीत की और उन्हें सांत्वना देते हुए कहा कि सरकार उन्हें हर संभव सहायता प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि पानी में बहे लोगों की तलाश में आईटीबीपी ने सराहनीय कार्य किया है और बाकी लोगों को ढूंढने के लिए भी प्रयास युद्ध स्तर पर जारी हैं।

सीएम ने बाद में किरटिंग में जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ चर्चा की और उन्हें बाढ़ के कारण हुए नुकसान का आकलन करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य सड़क मार्ग की बहाली तक वैकल्पिक मार्गों की व्यवस्था करने के लिए भी कहा। आज जनजातीय विकास मंत्री डॉ रामलाल मार्कंडेय राहत एवं पुनर्स्थापन कार्य की देखरेख के लिए दलबल के साथ डटे रहे। लाहुल-स्पीति (Lahul-Spiti) में 27 जुलाई को बादल फटने व भयानक बाढ़ से तांदी-सन्सारीनाला सड़क व पुलों को भारी क्षति पहुंची है।

यह भी पढ़ें: लाहुल: रस्सी के सहारे उफनते जाहलमा नाले को पार कर कुल्लू अस्पताल पहुंचाया घायल

 

 

तांदी-सन्सारीनाला सड़क पर जहालमा पुल बह गया है, और शांशा मडग्रा व थिरोट पुल को भारी क्षति पहुंची है। सीमा सड़क संगठन इन पुलों व सड़क को ठीक करने के लिए काय् कर रहा है। डॉ. मार्कंडेय ने हालात का जायजा लेने के बाद बताया कि तांदी-सन्सारीनाला सड़क पर यातायात बहाल होने में 20 से 25 दिन लग सकते है। उन्होंने कहा कि सभी क्षतिग्रस्त हुए पुलों पर वैकल्पिक व्यवस्था की गई है, ताकि लोग आरपार हो सके। शांशा नाले पर लोक निर्माण विभाग के मैकेनिकल विंग (Mechanical Wing) द्वारा पर्वतारोहण संस्थान के सहयोग से तैयार इस झूले के माध्यम से फंसे हुए लोगों को रेस्क्यू किया गया है। साथ ही बड़े पुल को पुनर्स्थापित करने के साथ ही छोटी पुलिया का निर्माण आज पूरा कर दिया जाएगा।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है