Covid-19 Update

1,98,313
मामले (हिमाचल)
1,89,522
मरीज ठीक हुए
3,368
मौत
29,439,989
मामले (भारत)
176,417,357
मामले (दुनिया)
×

सुखराम के घर भी Bali को आश्रय नहीं, Poster फटने वाला काम Mandi में भी चालू

गांधी भवन की दीवार पर टंगा था पोस्टर, रात के अंधेरे में हुई हरकत

सुखराम के घर भी Bali को आश्रय नहीं, Poster फटने वाला काम Mandi में भी चालू

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल में कांग्रेस (Himachal Congress) का पोस्टर फाड़ कार्यक्रम जारी है। शिमला कांगड़ा के बाद अब मंडी (Mandi) में भी पूर्व मंत्री जीएस बाली का पोस्टर फाड़ने का मामला (Poster tearing case) सामने आया है। मंडी जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यालय वाले गांधी भवन की दीवार पर एक सप्ताह से टंगा जीएस बाली का पोस्टर बीती रात को किसी ने फाड़ दिया। हालांकि अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि पोस्टर किसने फाड़ा है लेकिन इस हरकत के बाद से राजनैतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।

यह भी पढ़ें: शिमला के बाद अब कांगड़ा में भी फाड़ा होर्डिंग, बाली की लगी थी फोटो


 

ज्ञात रहे कि शिमला और कांगड़ा में भी जीएस बाली (GS Bali) के पोस्टर फाड़े गए थे और अब दोबारा से जो पोस्टर लगाए गए हैं उनमें वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) का फोटो भी जोड़ा गया है। मंडी में भी जो पोस्टर लगा था उसमें वीरभद्र सिंह का फोटो नहीं था। यही नहीं मंडी की राजनीति में अपना अलग जनाधार रखने वाले पंडित सुखराम और कौल सिंह ठाकुर (Pandit Sukhram and Kaul Singh Thakur) के फोटो भी इसमें से गायब थे। अब यह समझ से परे है कि पोस्टर फाड़ने की घटना को मंडी में किस नेता के समर्थक ने अंजाम दिया। बता दें कि जीएस बाली को कोरोना रिलिफ कमेटी का प्रदेश प्रभारी बनाया गया है। इसका प्रभारी बनने के बाद जीएस बाली के समर्थकों ने जगह-जगह यह पोस्टर लगा दिए हैं, लेकिन इन पोस्टरों से कांग्रेस के सबसे दिग्गज नेता वीरभद्र सिंह के फोटो गायब हैं जिसके बाद से इनके फटने का सिलसिला शुरू हो गया है।

यह भी पढ़ें: Breaking:रातो-रात Bali साफ, Video में देखें  Virbhadra की फोटो ना लगाने का मलाल  

सीसीटीवी फुटेज खंगालकर लगाएंगे शरारत करने वाले का पता

मंडी जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री प्रकाश चौधरी से जब इस बारे में बात की गई, तो उन्होंने इस घटना को शर्मनाक बताया। उन्होंने कहा कि पोस्टर चाहे किसी का भी हो, लेकिन उसे फाड़ना सही बात नहीं है। इससे हम आपसी लड़ाई को भी उजागर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी (CCTV) फुटेज खंगालने को बोल दिया गया है, ताकि ऐसी हरकत करने वाले का पता लगाया जा सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है