Covid-19 Update

2, 85, 003
मामले (हिमाचल)
2, 80, 796
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,134,332
मामले (भारत)
526,876,304
मामले (दुनिया)

पद्मश्री संत बाबा इकबाल सिंह का निधन, बड़ू साहिब में ली अंतिम सांस

कलगीधर ट्रस्ट के संपादक हैं बाबा इकबाल सिंह,कल दोपहर को होगा अंतिम संस्कार

पद्मश्री  संत बाबा इकबाल सिंह का निधन, बड़ू साहिब में ली अंतिम सांस

- Advertisement -

नाहन। हिमाचल के सिरमौर जिला में पद्मश्री  कलगीधर ट्रस्ट के संपादक संत बाबा इकबाल सिंह (Sant Baba Iqbal Singh) का 96 साल की उम्र में निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थे और चंडीगढ़ के एक अस्पताल में उपचाराधीन थे। बीते रोज ही वह अस्पताल से वापस बडू साहिब पहुंचे थे। संत बाबा इकबाल सिंह की अंत्येष्टि (funeral) कल यानी रविवार को दोपहर बाद बडू साहिब गुरुद्वारा (Baru Sahib Gurudwara) के सामने की जाएगी। उनके अंतिम संस्कार में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, अकाल तख्त साहबए पटना साहबए केशगढ़ साहब, से संगत व स्थानीय लोग शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि कोरोना नियमों का पालन करते हुए उन्हें अंतिम संस्कार में 2500/3000 लोग शामिल होंगे। संत बाबा इकबाल सिंह के निधन पर सीएम जयराम ठाकुर सहित सभी नेताओं ने शोक व्यक्त किया है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: इस पूर्व विधायक ने ली अंतिम सांस, कांग्रेस और बीजेपी से तीन बार बने थे MLA

 

 

बताया जा रहा है कि बाबा इकबाल सिंह जी ने दोपहर 3 बजे के आसपास संसार को अलविदा कहा। शिरोमणि पंथ बाबा इकबाल सिंह जी के शिक्षा के क्षेत्र में अमूल्य योगदान को अगली कई पीढ़ियां याद रखेंगी। बता दें कि गणतंत्र दिवस (Republic day) की पूर्व संध्या पर ही संत बाबा इकबाल सिंह जी को पदमश्री से नवाजे जाने की घोषणा हुई थी। कलगीधर ट्रस्ट के संपादक बाबा इकबाल सिंह को समाज सेवा व शिक्षा के क्षेत्र में पद्मश्री से नवाजा गया। हिमाचल प्रदेश के कृषि विभाग के निदेशक के पद से सेवानिवृत बाबा इकबाल सिंह का जन्म 1 मई 1926 को हुआ था। बता दें कि आज कलगीधर ट्रस्ट द्वारा देश भर में 129 अकादमियों व दो विश्वविद्यालयों को संचालित किया जा रहा है। संत इकबाल सिंह जी के फॉलोअर्स दुनिया भर में फैले हुए हैं, लेकिन वो बडू साहिब में ही रहना पसंद करते थे। जीवन की अंतिम सांस भी बाबा इकबाल सिंह ने बडू साहिब में ही ली।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है