Covid-19 Update

2,63,914
मामले (हिमाचल)
2, 48, 802
मरीज ठीक हुए
3944*
मौत
40,085,116
मामले (भारत)
360,446,358
मामले (दुनिया)

इस देश के लोगों की होती है सबसे लंबी उम्र, जानिए इनका लाइफस्टाइल

दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला का नाम केन तनाका है

इस देश के लोगों की होती है सबसे लंबी उम्र, जानिए इनका लाइफस्टाइल

- Advertisement -

दुनिया में बहुत सारे लोग ने अपने नाम पर कोई ना कोई रिकॉर्ड दर्ज किया है। जापान (Japan) की एक बुजुर्ग महिला ने दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला का रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया है। बुजुर्ग महिला ने हाल ही में अपना 119वां जन्मदिन मनाया है। दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला का नाम केन तनाका (Kane Tanaka) है। केन तनाका को चॉकलेट और फिजी ड्रिंक लेना काफी पसंद है। उम्र के इस पड़ाव पर केन इशारों में अपनी बात कह देती हैं।

ये भी पढ़ें-बिजनेस में इन महिलाओं का पूरी दुनिया में बजता है डंका, एक भारतीय महिला भी शामिल

बता दें कि यह पहला मामला नहीं है, जब जापान के किसी इंसान को सबसे उम्रदराज होने का खिताब प्राप्‍त है। इससे पहले भी इस लिस्‍ट में कई जापानियों के नाम शामिल हुए हैं। ये लोग लंबी उम्र के लिए ऐसे लाइफस्टाइल को अपनाते हैं-

चलते-फिरते रहते हैं ये लोग

जापानी लोग अपने शरीर को एक्टिव रखते हैं। इन लोगों को एक जगह पर देर तक बैठना पसंद नहीं है। जापानी लोग ये ज्‍यादातर खड़े होकर काम करते हैं या फिर चलते-फिरते हुए काम करते हैं। इतना ही नहीं जापानी लोग आसपास की जगहों पर जाने के लिए गाड़ि‍यों का इस्‍तेमाल नहीं करते हैं वो पैदल ही जाते हैं।

 

बाहरी लोगों के साथ बिताते हैं समय

जापान के लोग घर पर कम ही समय बिताते हैं। जापान के लोग समाज में काफी सक्रिय रहते हैं। जापानी लोग छुट्टी के मौकों पर घर में अकेले रहने की बजाय दोस्‍तों और परिजनों के साथ समय बिताना पसंद करते हैं। इतना ही नहीं ये लोग दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों के साथ समय बिताने के लिए बाहर की जगह चुनते हैं।

दिन में बहुत बार पीते हैं माचा टी

जापान के लोग दिन में कई बार माचा टी पीते हैं। माचा टी बढ़ती उम्र के असर को कम करती है। ये माचा आम चाय से अलग होती है, इसमें कई तरह के एंटीऑक्‍सीडेंट्स (Antioxidants) पाए जाते हैं जो रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाते हैं और चेहरे पर बढ़ती उम्र के असर को घटाते हैं। माचा चाय खास तरह पत्तियों को सुखाकर उसके पाउडर से तैयार की जाती है।

धीमी आंच पर बना खाना है पसंद

जापानी लोगों का खानपान दूसरे देशों के मुकाबले थोड़ा अलग होता है। इनके खाने में ज्‍यादातर सब्जियां होती हैं, जो कि कम तेल व मसाले में बनी हुई होती हैं। इनको खाने में ज्‍यादातर चीजें उबली हुई होती है या फिर भाप में पकी हुई। जापानी लोगों का मानना है कि खाने को धीमी आंच पर बनाने से खाने का स्‍वाद बना रहता है और इससे खाने के पोषक तत्‍व भी बरकरार रहते हैं।

कम मात्रा में परोसा जाता है खाना

जापानी खानपान में खाना कम मात्रा में परोसा जाता है। जापान में खाने के लिए छोटी प्‍लेट्स और चोपस्टिक्‍स (Chopsticks) का इस्‍तेमाल किया जाता है। जापानी लोगों का मानना है कि ऐसा करने से भूख मिट जाती है। इंसान ज्‍यादा खाना नहीं खाता और शरीर में चर्बी बढ़ने का खतरा भी खतरा नहीं रहता है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है