Covid-19 Update

3,05, 383
मामले (हिमाचल)
2,96, 287
मरीज ठीक हुए
4157
मौत
44,170,795
मामले (भारत)
590,362,339
मामले (दुनिया)

कभी लगाते थे अंडे व सब्जियों का ठेला, मेहनत कर हासिल किया ये मुकाम

जीवन में देखी बेहद गरीबी, चौथे अटेम्प्ट के बाद मिली सफलता

कभी लगाते थे अंडे व सब्जियों का ठेला, मेहनत कर हासिल किया ये मुकाम

- Advertisement -

कहते हैं कि अगर सपने बड़े हों तो उन सपनों को पूरा करने के लिए मेहनत भी उस स्तर पर करनी पड़ती है। कई बार अपने सपनों को पूरा करने के लिए किया गया कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है। इस बात का उदाहरण बिहार के मनोज कुमार रॉय (Manoj Kumar Roy) ने किया है। जो कभी अंडे बेचने का काम किया करते थे, वे आज ऑफिसर के पद पर रहकर देश की सेवा कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:53 वर्ष की इस महिला ने चुपके से दिन-रात पढ़ाई कर पास की दसवीं

जानकारी के अनुसार, आईओएफएस ऑफिसर अपने जीवन में बेहद गरीबी का सामना कर चुके हैं। उन्होंने ने अपनी पढ़ाई का खर्च निकालने के लिए दुकान और रेहड़ी पर काम किया और इसी के साथ निरंतर कोशिश करते हुए यूपीएससी की परीक्षा पास की। मनोज कुमार रॉय बिहार के सुपौल जिला के रहने वाले हैं। साल 1996 में मनोज सुपौल से दिल्ली आ गए थे। दिल्ली में उन्होंने अपना खर्चा चलाने के लिए अंडे व सब्जियों का ठेला लगाना शुरू कर दिया। इसके बाद वे जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में राशन पहुंचाने का काम करने लगे।

मनोज बताते हैं कि इस दौरान उनकी मुलाकात बिहार के रहने वाले छात्र उदय कुमार से हुई। उन्होंने मनोज को अपनी पढ़ाई जारी रखने की सलाह दी, जिसके बाद मनोज ने दिल्ली विश्वविद्यालय के अरबिंदो कॉलेज के इवनिंग क्लासेस के बीए पाठ्यक्रम में दाखिला ले लिया। साथ ही साथ मनोज ने अंडे और सब्जियों का ठेला लगाना भी जारी रखा। मनोज ने साल 2000 में ग्रेजुएशन पूरी कर ली है।

इसके बाद मनोज ने उदय की सलाह पर ही यूपीएससी करने की ठानी और परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी। साल 2005 में मनोज ने यूपीएससी का पहला अटेम्प्ट दिया, लेकिन वे सफल नहीं हुए। इसके बाद भी उन्होंने हार नहीं मानी और वे लगातार कोशिश करते रहे। इसके बाद साल 2010 में यूपीएससी के चौथे अटेम्प्ट के बाद उन्हें सफलता हासिल हो गई। इतना ही नहीं रैंक ज्यादा होने के कारण उन्हें इंडियन ऑर्डिनेंस फैक्ट्री सर्विस का कैडर दिया गया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है