Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

लाहुल की ऊंची चोटी पर ग्लेशियर में फंसा ट्रेकर, दो बचाव दल हुए रवाना

लाहुल की ऊंची चोटी पर ग्लेशियर में फंसा ट्रेकर, दो बचाव दल हुए रवाना

- Advertisement -

हिमाचल प्रदेश में इन दिनों मौसम खराब बना हुआ है। प्रदेश के उंचाई वाले इलाकों में बारिश व बर्फबारी हो रही है। ऐसे में प्रदेश के दुर्गम जिले लाहुल- स्पीति ( Lahul-Spiti) में ग्लेशियर(Glacier) में एक ट्रेकर के फंसे होने की सूचना है। ट्रेकर ने अपने फंसे होने की सूचना प्रशासन को दी है और उसे रेस्क्यू करने के लिए दो टीमें भी रवाना कर दी गई है। यह ट्रेकर करीब 15 हजार फीट की ऊंचाई पर फंसा हुआ है।

ये भी पढ़ेः HPPSC ने जारी किया एचएएस-2021 परीक्षा का शेड्यूल, यहां देखें डिटेल

जानकारी के अनुसार बंग्लूरू के चार युवा लाहुल स्पीति में ट्रेकिंग ( Trekking in Lahul Spiti) के लिए निकले थे। ये सभी प्रोफेशनल ट्रेकर( Professional Trekker) है। ये दल गुरुवार को लाहुल- स्पीति के चंद्रभागा माउंट सीबी-13 और 14 पर था। इसी दौरान इनका एक साथी ग्लेशियर के बीच 20 फीट नीचे दरार में गिर गया। इसके तीनों साथी नीचे उतरे और बात्तल पहुंच कर इन्होंने सेटेलाइट फोन के माद्यम से मदद मांगी। इसके बाद ट्रेकर को बचाने के लिए दो टीमें रवाना हो गई है। उधर अटल बिहारी वाजपेयी पर्वतारोहण संस्थान के निदेशक ने रेस्क्यू दल रवाना होने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि एक दल लाहुल की ओर तो दूसरा स्पीति की ओर रवाना किया गया है। इस दल के साथ एक पुलिस कर्मी भी है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है