Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

जुड़वा भाइयों की कहानीः वो आए थे साथ-साथ औरदुनिया से विदा भी हुए एक साथ

कानपुर के जुड़वा भाइयों की कोरोना ने ली जान

जुड़वा भाइयों की कहानीः  वो आए थे साथ-साथ औरदुनिया से विदा भी हुए एक साथ

- Advertisement -

कोरोना ( Corona) के इस दौरान में हर कोई खौफ में जी रहा है। यह महामारी लोगों को कभी ना भरने वाले जख्म दे रही है। कई बच्चों के सिर से माता-पिता का साया उठ गया तो कई माओं ने बच्चे खो दिए। इस दौर में कई बहनों से भाई छीन लिए। ये दर्द भरी दास्तां हैं जुड़वा भाइयों ( twin brothers) की जो इस दुनिया में आए थे एक साथ और जब विदा हुए तो भी साथ नहीं छूटा। उत्तर प्रदेश के मेरठ के रहने वाले राफेल परिवार दो जुड़वा भाई जोफ्रेड वर्गीस ग्रेगोरी और रालफ्रेड जॉर्ज ग्रेगोरी की कोरोना से मौत ( Death)हो गई। दोनों भाइयों की मौत के बीच फर्क कुछ घंटों का ही रहा।

यह भी पढ़ें: Anurag का बड़ा हमला-विपक्ष की वजह से बर्बाद हुई लाखों की संख्या में वैक्सीन

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, जोफ्रेड और रालफ्रेड का जन्म 23 अप्रैल 1997 को हुआ था। दोनों भाई पेशे से इंजीनियर थे और हैदराबाद में नौकरी करते थे। पिछले साल ही मल्टीनेशनल कंपनी में दोनों की जॉब लगी थी। कोरोना के कारण दोनों भाई वर्क फ्रॉम होम कर रहे थे। मेरठ में घर पर ही उन्हें कोरोना संक्रमण हुआ। गत 23 अप्रैल को उनका जन्मदिन था। लेकिन अगले ही दिन यानि 24 अप्रैल को वे कोरोना वायरस की चपेट में आ गए। शुरुआती इलाज घर पर ही किया। लेकिन उनकी हालत बिगड़ती गई। ऑक्सीजन स्तर ( Oxygen level) 90 पर पहुंचने के बाद चिकित्सकों ने दोनों को अस्पताल ले जाने की सलाह दी।


यह भी पढ़ें:  मौत के तुरंत बाद क्यों किया जाता है अंतिम संस्कार-ये रही इसके पीछे की वजह

पिता ग्रेगोरी रेमंड राफेल ने बताया कि रालफ्रेड ने आखिरी बार अपनी मां को कॉल किया था। वो अस्पताल ( Hospital)में था। उसने अपनी मां से कहा कि उसकी हालत सुधर रही है और भाई जोफ्रेड की तबीयत के बारे में पूछा। लेकिन तब तक जोफ्रेड का निधन हो चुका था। लेकिन मां ने उसे बताया कि जोफ्रेड को दिल्ली के अस्पताल में शिफ्ट करना पड़ रहा है, लेकिन रालफ्रेड अपनी मां से कहा कि आप झूठ बोल रहे हैं। पिता बताते हैं कि उन्हें यह आभास था कि अगर उनके बेटे वापस आएंगे, तो दोनों साथ आएंगे, नहीं तो कोई नहीं आएगा। क्योंकि बचपन से आज तक जो भी एक को होता था, वो दूसरे को होता था। जब जोफ्रेड की मौत की खबर मिली तो उन्होंने पत्नी को बताया कि रालफ्रेड भी घर अकेला नहीं लौटेगा। हुआ भी वही 13 और 14 मई को कुछ घंटों के अंतराल में ही दोनों की मौत हो गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है