डीएफओ के समक्ष किसानों ने विधायकों और कर्मचारियों के लिए कह दी बड़ी बात

पौंग डैम के साथ लगती पंचायतों के किसानों के साथ की थी बैठक

डीएफओ के समक्ष किसानों ने विधायकों और कर्मचारियों के लिए कह दी बड़ी बात

- Advertisement -

रविन्द्र चौधरी / जवाली। पौंग झील किनारे खाली जमीन पर बिजाई का मुद्दा गरमा गया है। नगरोटा सूरियां में वन्य प्राणी विभाग हमीरपुर व विभाग के अन्य कर्मचारियों ने पौंग डैम के साथ लगती पंचायतों के किसानों के साथ बैठक की। इस दौरान बैठक में मौजूद कुछ लोगों ने विधायकों और कर्मचारियों पर आरोप लगाते हुए उन्हें अपशब्द कह डाले। इस दौरान किसानों ने पौंग झील किनारे खाली जमीन पर बिजाई करने की अनुमति मांगी लेकिन डीएफओ हमीरपुर ने दोटूक शब्दों में चेताया कि किसी को भी झील किनारे खेती नहीं करने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि झील किनारे खेती करना प्रतिबंधित है और अगर किसी ने खेती करने की कोशिश की तो उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में किसी भी व्यक्ति को खेती नहीं करने दी जाएगी। अतः वे किसानों की समस्याओं को सरकार तक जरूर पहुंचाएंगे।

यह भी पढ़ें:गोबिंदसागर झील किनारे फैंक दिए एक्सपायरी डेट के नमकीन के पैकेट

इस दौरान कुछ लोगों ने बौखलाहट में विधायकों और कर्मचारियों को आवेश में आकर चोर तक कह दिया और गालियां तक दे डाली और यहां तक कहा कि 10 दिन में अगर हमें विभाग के अधिकारी बिजाई नहीं करने देंगे तो हम धरना देंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि विभाग के कर्मचारी भी बिजाई करने वालों के साथ साथ मिले हुए हैं

Pong-Dam

Pong-Dam

।जाहिर है आज नगरोटा सूरियां में वन्य प्राणी विभाग हमीरपुर के डीएफओ रेजीनोड रॉयस्टोन व विभाग के अन्य कर्मचारियों ने पोंग डैम के साथ लगती पंचायतों के किसानों के साथ बैठक की तथा किसानों की बात को सुना।वहीं वन्य प्राणी विभाग खाली जमीन पर बिजाई को लेकर सख्त हो गया है तथा बिजाई को रोकने के लिए हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। वन्य प्राणी विभाग की ओर से इस पर कड़ा एक्शन लेने के लिए ड्रोन की भी मदद ली जा रही है। विभागीय टीमें जगह-जगह दबिश दे रही है तथा इस बार जोर-जबरदस्ती या सत्ता का रौब दिखाकर खेती करने वालों के खिलाफ भी वन्य प्राणी विभाग काफी सख्त रवैया अपनाए हुए है। वन्य प्राणी विभाग की सख्ती के आगे कोई भी नेता अपना मुंह नहीं खोल रहा है। पौंग झील किनारे खाली जमीन पर प्रतिबन्ध के बाद खेती करने वालों पर रोक ना लगाए जाने को लेकर पर्यावरण प्रेमी मिलखी राम शर्मा, कुलबन्त सिंह, उजागर सिंह इत्यादि ने हाईकोर्ट में याचिका लगा रखी है। डीएफओ हमीरपुर रेजीनोड रॉयस्टोन ने कहा कि फिलहाल पौंग झील किनारे की जमीन पर बीजाई करना प्रतिबंधित है तथा इस जमीन पर कोई भी बीजाई न करे। उन्होंने कहा कि अगर किसी ने प्रतिबंधित जमीन पर बीजाई की तो वाइल्ड लाइफ एक्ट के तहत विभाग उसके खिलाफ सख्त एक्शन लेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है