×

418 कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर को दी गई पोस्टिंग, गांव में मरीजों को मिलेगी सुविधा

कुछ समय पहले ही पीएचसी को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में अपग्रेड किया गया था

418 कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर को दी गई पोस्टिंग, गांव में मरीजों को मिलेगी सुविधा

- Advertisement -

शिमला। हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर (Health and Wellness Center) के तहत आने वाले हेल्थ सब सेंटर में 418 कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (Community Health Officer) की तैनाती कर दी गई है। अब गांव-गांव में भी मरीजों को सुविधाएं मिलेंगी और बड़े अस्पतालों का बोझ भी कम किया जा सकेगा। आपको बता दें कि कुछ समय पहले ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (PHC) यानी पीएचसी को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में अपग्रेड किया गया था। अब इन्हीं हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर (Health and Wellness Center) के तहत आने वाले हेल्थ सब सेंटर में इन 418 सीएचओ यानी कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (Community Health Officer) की तैनाती की गई है।


यह भी पढ़ें: देश के 50 लोकप्रिय पुलिस कप्तानों में शालिनी अग्निहोत्री व मोहित चावला के नाम

पूरी लिस्ट देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

क्या करेंगी सीएचओ
सीएचओ यानी कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (CHO) को कई जरूरी जिम्मेदारियां दी गई हैं। कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर सरकार की स्वास्थ्य योजनाओं (Health Plans) को लेकर लोगों को जागरूक करेंगी। इसके साथ ही टीकाकरण अभियान (Vaccination Campaign) में भी इनकी मदद ली जाएगी। आंगनबाड़ी वर्कर्स और आशा वर्कर्स इन्हें ही रिपोर्ट करेंगी और योजना संबंधित डाटा भी इन्हें मेंटेन करना होगा। हेल्थ सब सेंटर में कोई मरीज आता है और उसका उपचार वहां संभव नहीं तो मेडिकल कॉलेज से बड़े डॉक्टरों से सलाह लेने के लिए कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर टेली मेडिसिन का सहारा लेंगी। सीएचओ ही मेडिकल कॉलेज से सलाह लेकर मरीजों का इलाज करेंगे और उन्हें दवाइयां लिख सकेंगी।

यह भी पढ़ें: सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे की शिकायत लेकर डीसी के पास पहुंचे धनेड़ के बाशिंदे

क्यों की जा रही तैनाती
दरअसल सर्दी जुकाम सहित छोटी-छोटी दिक्कतों के लिए भी मरीज मेडिकल कॉलेज और पीएचसी पहुंचते हैं। इस बोझ को कम करने के लिए और योजनाओं के क्रियान्वयन और रिकॉर्ड मेंटेन करने के लिए इनकी तैनाती की जा रही है। इससे पीएचसी और मेडिकल कॉलेज में पड़ रहा मरीजों का भार तो कम होगा ही बल्कि स्वास्थ्य योजनाओं के क्रियान्वयन में भी आसानी मिलेगी। इसके साथ ही सीएचओ मरीजों को छोटी-मोटी दवाइयां भी लिख सकेंगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है