Covid-19 Update

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

आशीष बुटेल बोले: पालमपुर में बनेगा युद्ध स्मारक, 108 फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज का किया अनावरण

सीपीएस ने संयुक्त कार्यालय परिसर में किया 108 फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज का अनावरण

आशीष बुटेल बोले: पालमपुर में बनेगा युद्ध स्मारक, 108 फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज का किया अनावरण

- Advertisement -

पालमपुर। जिला कांगड़ा का पालमपुर (Palampur) वीरों और बलिदानियों की भूमि है जिन्होंने मातृ भूमि के लिये अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है। ऐसे देश भक्तों को नमन करने और उनसे प्रेरणा लेने के लिये पालमपुर में युद्ध स्मारक बनाया जाएगा। यह बात बुधवार को मुख्य संसदीय सचिव आशीष बुटेल ने संयुक्त कार्यालय परिसर में 108 फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज (National flag) के अनावरण अवसर पर कही।


यह भी पढ़े:पूर्ण राज्यत्व दिवस पर बोले सीएम सुक्खूः प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में शुरू होगी रोबोटिक सर्जरी

आशीष बुटेल (Ashish Butail) ने कहा कि यह गौरव की बात है कि जिला में सबसे ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज पालमपुर में स्थापित हुआ है और इसके लिए पालमपुर प्रशासन बधाई का पात्र है। उन्होंने इस अवसर पर 108 फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज स्थापना में योगदान देने वाले लोगों का भी आभार प्रकट किया।

palampur

palampur

सीपीएस आशीष ने कहा कि पालमपुर वीर भूमि के नाम से जानी जाती है और भारतीय सेना (Indian Army) के सर्वोच्च सम्मान परमवीर चक्र (Param Vir Chakra) सर्वप्रथम शहीद मेजर सोम नाथ शर्मा को उनके अदम्य साहस और पराक्रम के लिये दिया गया। कारगिल युद्ध में शहीद कैप्टन विक्रम बत्रा (Martyr Captain Vikram Batra) को भी उनके पराक्रम के लिए परमवीर चक्र दिया गया। उन्होंने कहा कि शांति काल का सर्वोच्च सम्मान अशोक चक्र शहीद मेजर सुधीर वालिया को उनकी वीरता के लिये दिया गया। इसके अलावा कैप्टन सौरभ कालिया (Captain Saurabh Kalia) सहित कई वीरों ने मातृ भूमि की रक्षा में अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है। उन्होंने कहा कि बलिदानियों के इतिहास को लोग जानेए उन्हें नमन कर सकें और प्रेरणा लें। पालमपुर में ऐसा एक स्मारक बनाने की दिशा में प्रयास जारी है।

palampur

palampur

1025 मीटर लंबी तिरंगा यात्रा निकाल बनाया था रिकॉर्ड

उन्होंने कहा कि इससे पूर्व भी पालमपुर की समाज सेवी संस्थाओं ने 1025 मीटर लंबी तिरंगा यात्रा (Tiranga Yatra) निकाल कर रिकॉर्ड स्थापित किया है। इस यात्रा में पूर्व सीएम शांता कुमार (Shanta Kumar) के साथ उन्हें भी शामिल होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ था। उन्होंने कहा कि पालमपुर आने बाले लोगों को पालमपुर के इतिहास की जानकारी मिले इसके लिये यहां युद्ध स्मारक बनाने की दिशा में प्रयास आरंभ कर दिए गए हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है