×

Jai Ram बोले- ठेठ सराजी, ज्यादा मत छेड़ो-जिन्होंने छेड़ा वो आजकल वृंदावन में हैं

सीएम जयराम ठाकुर ने की पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर पर तीखी टिप्पणी

Jai Ram बोले- ठेठ सराजी, ज्यादा मत छेड़ो-जिन्होंने छेड़ा वो आजकल वृंदावन में हैं

- Advertisement -

मंडी। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कौल सिंह ठाकुर (Kaul Singh Thakur) सहित अन्य कांग्रेसी नेताओं को हद में रहने की नसीहत दी है। हिमाचल दिवस (Himachal Day) पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह के बाद द्रंग विधानसभा क्षेत्र के हरडगलू में आयोजित एक अन्य जनसभा में सीएम जयराम ठाकुर कौल सिंह ठाकुर सहित कांग्रेस के अन्य नेताओं पर जमकर बरसे। वहीं उन्होंने सुखराम परिवार को भी फिर से आड़े हाथ लिया। जयराम ठाकुर ने कहा कि वे ठेठ सराजी हैं और उन्हें ज्यादा मत छेड़ो, जिन्होंने छेड़ा वो आजकल वृंदावन में हैं। यह इशारा उन्होंने सुखराम परिवार पर किया, जिन्हें हाल ही में नगर निगम चुनाव (Nagar Nigam Election) में करारी हार का सामना करना पड़ा है। जयराम ठाकुर ने कहा कि कौल सिंह ठाकुर को द्रंग क्षेत्र में हो रहा विकास नजर नहीं आता जबकि सिर्फ सराज और धर्मपुर में ही विकास के आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में कांग्रेस (Congress) का कोई नेता ऐसा नहीं जिसके उपर भ्रष्टाचार के आरोप ना लगे हों। इसलिए कांग्रेसी नेताओं को ज्यादा ना बोलते हुए हद में रहने की जरूरत है।


यह भी पढ़ें: जयराम ठाकुर बोले: टांडा मेडिकल कॉलेज में बढ़ाई जाए बिस्तरों की क्षमता

 

 

जयराम ठाकुर ने सुखराम परिवार पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा कि मंडी को मिले मान-सम्मान का अपमान करने का परिणाम सुखराम परिवार भुगत चुका है और यदि यही हाल रहा तो कौल सिंह भी यही परिणाम भुगतेंगे। उन्होंने कहा कि यदि उनके स्थान पर कौल सिंह ठाकुर को यह मान-सम्मान मिला होता तो वह इसकी कद्र करते, लेकिन कौल सिंह ठाकुर और जिला के अन्य कांग्रेसी नेता ऐसा नहीं कर रहे हैं। जयराम ठाकुर ने कहा कि मंडी (Mandi) की जनता अब किसी को माफ करने वाली नहीं है। इससे पहले द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर (MLA Jawahar Thakur) ने भी जमकर कौल सिंह ठाकुर पर अपना राजनीतिक गुब्बार निकाला। उन्होंने कहा कि कौल सिंह ठाकुर का राजनीतिक गोत्र कम्युनिस्ट हैं और उन्होंने अपनी सुविधा के अनुसार पार्टियां बदली हैं। उन्होंने कहा कि कौल सिंह ना तो सुखराम के हुए और ना ही वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) के, तो ऐसे में द्रंग की जनता के कैसे हो सकते हैं। वहीं उन्होंने कौल सिंह ठाकुर को एक बार फिर से विकास के मामले पर खुले मंच पर बहस की चुनौती भी दी।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है