×

Home Stay कैसे बदलेंगे लाहुल घाटी की तस्वीर, टनल से टूरिज्म का रिश्ता-जानिए

75 दिन तक चले स्नो फेस्टिवल का शिमला से किया समापन

Home Stay कैसे बदलेंगे लाहुल घाटी की तस्वीर, टनल से टूरिज्म का रिश्ता-जानिए

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने आज लाहुल घाटी (Lahaul Valley) में 75 दिन तक चले स्नो फेस्टिवल (Snow Festival) का समापन किया। यह स्नो फेस्टिवल 14 जनवरी को शुरू हुआ था और आज इसका समापन हुआ है। सीएम जयराम ठाकुर ने शिमला से वर्चुअली इसका समापन किया। वर्चुअली अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि लाहुल घाटी के अलग-अलग गांवों में अलग-अलग में समय में होने वाले कार्यक्रमों को जोड़कर बड़े आयोजन का स्वरूप तय किया। इसके लिए लाहुल घाटी के लोग बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि यह फेस्टिवल 75 दिन तक चला है और देश में यह एक इतिहास है। उन्होंने कहा कि सर्दी के मौसम में लाहुल घाटी कट जाती थी और आना-जाना मुश्किल हो जाता था। पर अब अटल टनल रोहतांग (Atal Tunnel Rohtang) के शुरू होने के बाद लाहुल घाटी सर्दी के मौसम में भी खुली रहेगी। हां ज्यादा बर्फ पड़ने से एक दो दिन तक बंद हो सकती है, पर ज्यादा टाइम के लिए नहीं।


यह भी पढ़ें:स्नो फ़ेस्टिवलः लाहुल स्पीति में कोकसर की ढलानों पर हुई स्कीइंग प्रतियोगिता

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल इंटरनेशनल टूरिस्ट डेस्टिनेशन (Himachal International Tourist Destination) है। लाहुल घाटी एक ऐसी घाटी थी, जहां पर टूरिज्म की काफी संभावनाएं हैं। लेकिन, सर्दी के मौसम में घाटी के कट जाने से आगे नहीं बढ़ पाते थे। अब टनल के साथ टूरिज्म (Tourism) का रिश्ता बन गया है। टनल के चलते टूरिस्ट लाहुल घाटी में आ-जा सकेंगे। पर इसके लिए घाटी के अंदर आकर्षण तैयार करने पड़ेंगे, ताकि टूरिस्ट यहां आएं घूमे और रूकें। लाहुल घाटी के अंदर कई लोकल चीजें हैं, जिन्हें संजोकर पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनाया जा सकता है। वहीं, लाहुल घाटी में इन्फ्रास्ट्रक्चर (Infrastructure) को मजबूत करने की जरूरत है। इसके लिए होम स्टे (Home Stay) काफी महत्वपूर्ण रोल अदा कर सकते हैं। टूरिस्ट सीजन आने से पहले लाहुल के अंदर टूरिस्ट को रोकने और उन्हें ठहरने के लिए होम स्टे को प्राथमिकता दी जाए। होम स्टे में साफ सफाई, टायलेट आदि की पूरी व्यवस्था हो। साथ ही भोजन का भी पूर्ण प्रबंध हो। उन्होंने कहा कि पहले लगभग 71 होम स्टे लाहुल घाटी में थे। पर अब 450 से अधिक हो गए हैं, जोकि अच्छी बात है। इससे ना केवल पर्यटकों की आमद बढ़ेगी, बल्कि रोजगार के साथ भी अर्जित होंगे और लोगों की आर्थिकी सृदृढ़ होगी।

यह भी पढ़ें:टीबी उन्मूलन कार्यक्रम में हिमाचल को राष्ट्रीय स्तर पर अवार्ड, पांच जिलों को भी पदक

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि वह व्यक्तिगत रूप से लाहुल आकर इस कार्यक्रम का समापन करना चाहते थे, लेकिन नगर निगम चुनाव (Nagar Nigam Election) में व्यवस्तता और मौसम खराब होने के चलते ऐसा नहीं हो पाया। वह जल्द ही लाहुल का दौरा करेंगे और अन्य विकास कार्यों को गति देंगे। शिमला से सीएम जयराम ठाकुर के साथ तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉ. रामलाल मार्कंडेय (Technical Education Minister Dr. Ramlal Markandeya), प्रधान सचिव ओंकार शर्मा और आरएन बत्ता आदि मौजूद थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है