Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,437,535
मामले (भारत)
228,638,789
मामले (दुनिया)

कांगड़ा नप की आपसी लड़ाई में ईओ की एंट्री, आठ पार्षदों ने खोला मोर्चा

जनता दरबार में आठ पार्षदों ने ईओ के खिलाफ सीएम को सौंपी लिखित शिकायत पत्र

कांगड़ा नप की आपसी लड़ाई में ईओ की एंट्री, आठ पार्षदों ने खोला मोर्चा

- Advertisement -

रितेश ग्रोवर/कांगड़ा। कांगड़ा नगर परिषद (Kangra Municipal Council) के पार्षदों की लड़ाई में अब परिषद के कार्यकारी अधिकारी (executive Officer) चमन लाल कपूर की भी एंट्री हो गई है। परिषद के चुने गये 4 और मनोनीत 4 सदस्यों ने संयुक्त रूप से परिषद के कार्यकारी अधिकारी चमन लाल के खिलाफ सार्वजनिक रूप से मोर्चा खोल दिया है। परिषद के आठ पार्षदों ने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) को परिषद के कार्यकारीन अधिकारी चमन लाल के खिलाफ लिखित शिकायत सौंपी है। साथ ही चमन लाल को कांगड़ा से हटाने की मांग रखी।

कार्यकारी अधिकारी के खिलाफ हुए पार्षद

पार्षदों ने कहा कि कांगड़ा नगर परिषद में यह पहला मौका है कि जब परिषद के आठ पार्षद कार्यकारी अधिकारी के खिलाफ हो गये हैं। लिखित शिकायत सीएम जयराम ठाकुर को सौंपी। सीएम को शिकायत पत्र मिलते ही उन्होंने जनता दरबार में परिषद कार्यकारी अधिकारी को तलब किया। वहीं, ऐसी शिकायत आने का कारण पूछा। इस दौरान सीएम के साथ बैठे कांगड़ा के पूर्व विधायक चौधरी सुरेन्द्र काकू (Former MLA Surendra Kaku) ने भी कार्यकारी अधिकारी पार्षदों की शिकायत को सही बताया।

पूर्व विधायक ने भी लगाए आरोप

सुरेन्द्र काकू ने कहा कि कार्यकारी अधिकारी उनके कामों को भी मना कर देते हैं। ऐसे में कांगड़ा परिषद की जनता का काम कैसे होगा। सीएम ने चमन कपूर को अपनी कार्यशैली में बदलाव लाने के निर्देश दिए। जयराम ठाकुर ने कहा कि सरकार ने जनहित में काम करने के लिए उन्हें नियुक्त किया है। वे लोगों की समस्याएं दूर करे। सीएम जयराम ठाकुर ने दोबारा ऐसी शिकायत ना आने की हिदायत दी।

कांग्रेस से लगाए सांठगांठ के आरोप

सीएम को कार्यकारी अधिकारी की शिकायत पत्र सौंपने में वार्ड एक के पार्षद प्रेम सागर धीमान, वार्ड 3 की पार्षद पुष्पा चौधरी, वार्ड 4 की पार्षद अनुराधा तथा मनोनीत पार्षद विद्या सागर, सुरेश छेछा, रितेश सोनी व विनोद शर्मा शामिल हैं। इसके अतिरिक्त पार्षदों की शिकायत पत्र में कांगड़ा भाजपा मंडल ने भी अपना समर्थन दिया है। भाजपा मंडल अध्यक्ष सतप्रकाश सोनी ने मुख्यमंत्री के समक्ष यहां तक कह दिया कि परिषद में सिर्फ कांग्रेस समर्थित लोगों के ही काम किये जा रहे हैं, जबकि भाजपा समर्थित लोगों के काम को लटकाया जा रहा है। पार्षद अनुराधा, पुष्पा व प्रेम सागर धीमान ने सीएम को कहा कि परिषद के कार्यो में उनके वार्ड के कार्यो को हटाया जा रहा है। शिकायत के बावजूद कार्यकारी अधिकारी उनकी सुनवाई नही कर रहे हैं। वहीं, कार्यकारी अधिकारी चमन लाल कपूर से संपर्क किया तो उन्होने मोबाइल नहीं उठाया। जिससे उनका पक्ष नहीं लिया जा सका है। पार्षदों ने कहा कि कांगड़ा नगर परिषद में यह पहला मौका है कि जब परिषद के आठ पार्षद कार्यकारी अधिकारी के खिलाफ हो गये हैं। लिखित शिकायत सीएम जयराम ठाकुर को सौंपी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है