×

CU कुलपति प्रोफेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री का इस्तीफा, नई जगह कर सकते हैं ज्वाइन

फरवरी, 2020 में कार्यकाल पूरा होने के बाद दी गई थी एक्सटेंशन

CU कुलपति प्रोफेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री का इस्तीफा, नई जगह कर सकते हैं ज्वाइन

- Advertisement -

धर्मशाला। केंद्रीय विश्वविद्यालय (Central University) में छात्रों और प्रशासन में उपजे विवाद के बीच हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने इस्तीफा (Kuldeep Chand Agnihotri Resignation) दे दिया है। हालांकि प्रोफेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री का कार्यकाल (Kuldeep Chand Agnihotri Tenure) फरवरी, 2020 में ही पूरा हो गया था, लेकिन कोरोना के कारण नए कुलपति की नियुक्ति (CUHP Vice Chancellor Appointment) ही नहीं हो पाई थी। ऐसे में प्रोफेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री के कार्यकाल को एक साल तक एक्सटेंड किया गया था। उधर, चर्चा है कि प्रोफेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री (CUHP VC) को किसी दूसरी जगह नियुक्ति मिल सकती है। केंद्रीय विश्वविद्यालय (Central University) के कुलपति ने अपना इस्तीफा केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल (Ramesh Pokhriyal Nishank) को भेजा है। प्रोफेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने सीयू के दूसरे कुलपति थे। फुरकान कंवर सीयू के पहले कुलपति थे।


ये भी पढ़ें: Budget Session: वोकेशनल टीचर के नियमितीकरण पर क्या बोली सरकार- जाने

आपको बता दें कि अव्यवस्थाओं को लेकर सीयू प्रशासन और एबीवीपी (ABVP) के बीच काफी ज्यादा विवाद चल रहा है। इसके कारण सीयू रजिस्ट्रार (CU Registrar) ने छात्र अशांति का हवाला देते हुए विश्वविद्यालय को बंद भी कर दिया था। कुलदीप चंद अग्निहोत्री के इस्तीफे को लेकर कई तरह की चर्चाएं हैं, लेकिन उनका कार्यकाल भी खत्म हो रहा था। कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने 20 अप्रैल, 2015 को सीयू का पदभार संभाला था। उस समय केंद्रीय विश्वविद्यालय (Central University) में चीजें अस्त व्यस्त थीं। उस दौरान केंद्रीय विश्वविद्यालय राजकीय महाविद्यालय शाहपुर (Shahpur) के भवन में चल रहा था। कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने ही 2017 में केंद्रीय विव का धौलाधार (Dhauladhar Campus) परिसर धर्मशाला शुरू किया। यहां से भाषा स्कूल को शाहपुर से शिफ्ट किया गया था। इसके बाद 2019 में सप्त सिधु परिसर देहरा भी शुरू किया गया।

आपको बतां देकि पिछले साल फरवरी महीने में ही कुलदीप चंद अग्निहोत्री का कार्यकाल पूरा हो गया था, लेकिन शिक्षा मंत्रालय ने पिछले साल सीयू कुपलति की रिटायरमेंट पर स्टे लगा दिया था। हालांकि इसी वजह से उनके पास कुछ शक्तियां भी नहीं थीं। उधऱ, बताया जा रहा है कि उन्हें किसी अन्य विश्वविद्यालय से भी ऑफर मिला है और कुलदीप चंद अग्निहोत्री वहां जल्द सेवाएं दे सकते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है