Covid-19 Update

2,17,403
मामले (हिमाचल)
2,12,033
मरीज ठीक हुए
3,639
मौत
33,529,986
मामले (भारत)
230,045,673
मामले (दुनिया)

HUID के विरोध में शिमला के ज्वैलर्स ने बंद रखी दुकानें, सरकार से फैसला वापस लेने की मांग

HUID के विरोध में शिमला के ज्वैलर्स ने बंद रखी दुकानें, सरकार से फैसला वापस लेने की मांग

- Advertisement -

शिमला। गोल्ड ज्वैलरी पर अनिवार्य हॉलमार्किंग HUID को लेकर देशभर के ज्वैलर्स आज हड़ताल पर हैं। आभूषण विक्रेताओं ने सोने के आभूषणों की अनिवार्य हॉलमार्किंग के मनमाने ढंग से कार्यान्वयन के खिलाफ हड़ताल कर दुकानें बंद रखी है। शिमला में भी इसके विरोध में ज्वैलर्स हड़ताल पर हैं। इस सांकेतिक हड़ताल को देशभर के रत्न एवं आभूषण के 350 संघ और महासंघ समर्थन कर रहे हैं।

ये भी पढ़ेः डॉ राजेश की अगुवाई में हॉकी कांगड़ा ने अनुराग से मिलकर अंतरराष्ट्रीय मैदान के लिए मांगा सहयोग

गौर रहे कि 16 जून 2021 से देशभर में चरणबद्ध तरीके से हॉलमार्किंग को अनिवार्य कर दिया है। सरकार ने हॉलमार्किंग का लागू करने के लिए 28 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 256 जिलों की पहचान की है।
शिमला ज्वेलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अतुल टांगरी का कहना है कि एक दिवसीय सांकेतिक हड़ताल HUID (हॉलमार्क विशिष्ट पहचान संख्या-Hallmarking Unique ID) के मनमाने ढंग से कार्यान्वयन के खिलाफ है। यह कानून अव्यावहारिक और असंभव है। HUID का सोने की शुद्धता से किसी भी प्रकार से कोई लेना-देना नहीं है और इसे ज्वैलर्स स्वीकार नहीं कर सकते। BIS को लगता है कि नए HUID से सोने की शुद्धता में सुधार होगा लेकिन ज्वैलर्स को लग रहा है कि सिर्फ एक ट्रैकिंग तंत्र है। ज्वैलर्स संघ ने चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने अपना फ़ैसला वापस नहीं लिया तो आने वाले वक्त में उसके ख़िलाफ़ आंदोलन और तेज़ होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है