Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

दुनिया का वो खतरनाक चिड़ियाघर,यहां पिंजरे में कैद होते हैं टूरिस्ट

दुनिया का वो खतरनाक चिड़ियाघर,यहां पिंजरे में कैद होते हैं टूरिस्ट

- Advertisement -

क्या आपने कभी ऐसा सुना कि किसी चिड़ियाघर में जाने के लिए पिंजरे में कैद होना पड़े। दुनिया में ऐसा भी चिड़ियाघर हैं,यहां जानवरों की जगह लोगों को पिंजरे वाली गाड़ी में कैद किया जाता है। खूंखार जानवर इतने नजदीक पहुंच जाते हैं कि लोग जोर-जोर से चिल्लाने लगते हैं। आपको बता दें कि ऐसा (China)चीन के लेहे लेदु वाइल्डलाइफ जू (Lehe Ledu Wildlife Zoo) में होता है। ये दुनिया का खतरनाक चिड़ियाघर (Dangerous Zoos)है। यहां खूंखार जानवर हमेशा खुलेआम घूमते हैं, उन्हें देखने के लिए लोग पिंजरों में कैद (Imprisoned in Cage) होकर आते हैं। यहां तक कि कई बार शेर और चीता जैसे खूंखार जानवर उनके इतने पास पहुंच जाते हैं कि लोग जोर-जोर से चिल्लाने लगते हैं।

ये भी पढ़ेः आखिर क्या है रेड, यलो, ओरेंज, ब्लू अलर्ट का मतलब, यहां पढ़े

ये चिड़ियाघर चौंगक्विंग शहर में स्थित है। वर्ष 2015 में इस चिड़ियाघर को खोला गया था। लेहे लेदु वाइल्डलाइफ जू नामक इस चिड़ियाघर में इंसानों को जानवरों के करीब जाने का बहुत ही अनोखा मौका मिलता है। पर्यटक यहां जानवरों को अपने हाथों से खाना भी खिला सकते हैं। क्योंकि यहां आने वाले पर्यटकों को पिंजरों में भरकर जानवरों के आसपास लाया जाता है। इस दौरान शेर इंसानों को पिंजरे में देखकर ललचाते रहते हैं। वह उन्हें खाने के लालच में पिंजरे के पास आ जाते हैं। यहां तक कि वह पिंजरे के ऊपर भी चढ़ जाते हैं। उस वक्त पर्यटकों के चिल्लाने की आवाजें सुनाई पड़ती हैं। चिड़ियाघर में घूमने आए (Safety of the Tourists) पर्यटकों की सुरक्षा को लेकर यहां सख्त निर्देश (Strict instructions) दिए जाते हैं। यहां पर 24 घंटे कैमरों से पिंजरों और खूंखार जानवरों पर नजर रखी जाती है।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है