Covid-19 Update

2,21,203
मामले (हिमाचल)
2,16,124
मरीज ठीक हुए
3,701
मौत
34,043,758
मामले (भारत)
240,610,733
मामले (दुनिया)

हिमाचल: जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह की बेटी धरने पर बैठी, 11 करोड़ का है मामला

लोक निर्माण विभाग पर पति के 11 करोड़ के कार्यों की अदायगी ना करने के लगाए आरोप

हिमाचल: जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह की बेटी धरने पर बैठी, 11 करोड़ का है मामला

- Advertisement -

मंडी। प्रदेश सरकार के कद्दावर मंत्री माने जाने वाले महेंद्र सिंह ठाकुर  (Mahendra Singh Thakur) की बेटी को अपने पति के बिलों का भुगतान करवाने के लिए धरने पर बैठना पड़ा है। शुक्रवार को महेंद्र सिंह ठाकुर की बेटी मधु भंडारी (daughter Madhu Bhandari) ने लोक निर्माण विभाग के धर्मपुर स्थित अधिशाषी अभियंता के कार्यालय के बाहर दिन भर धरने (Sat on Dharana) पर बैठकर बिलों के भुगतान की गुहार लगाई। बता दें कि मधु भंडारी महेंद्र सिंह ठाकुर की छोटी बेटी है और इनकी शादी जोगिंद्रनगर उपमंडल के तहत आने वाले भराडू गांव निवासी संजीव भंडारी से हुई है जोकि पेशे से ठेकेदार हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: वरिष्ठ नागरिक दिवस पर बुजुर्गों ने डीसी के सामने खोला समस्याओं का पिटारा

 

 

मधु का कहना है कि धर्मपुर स्थित लोक निर्माण के कार्यालय में उनके 11 करोड़ से अधिक की राशि के बिल लंबित पड़े हैं जिनका भुगतान नहीं किया जा रहा है। यह सभी कार्य इसी कार्यालय के तहत अवार्ड हुए थे और इन कार्यों को पूरा किया जा चुका है। मधु ने बताया कि बरैहल सड़क के 1.70 करोड, छेज गवाला सड़क के 1.56 करोड़, प्रौन रांगड़ सड़क के 4.80 करोड़, ऊभक बनेरड़ी कांडापतन सड़क के 2.50 करोड़ के कार्य पूर्ण कर चुके हैं। इन कार्यों को पूरा किए हुए कई वर्ष बीत गए हैं लेकिन विभाग इसकी अदायगी नहीं कर रहा है। अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग (PWD) मंडल धर्मपुर को कई बार लिखित व मौखिक निवेदन किया गया, लेकिन लंबित बिलों की अदायगी आज दिन तक नहीं हो पाई है जिस कारण मजबूरन उन्हें धरने पर बैठना पड़ा है।

 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में यहां एक-एक कर तीन गाड़ियों में हुई जोरदार टक्कर, सवारों को आई चोटें

वहीं मधु ने यह चेतावनी भी दी है कि अगर आए दिन कल को उनके परिवार या उन्हें कुछ हो जाता है तो उसके लिए लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता जिम्मेदार होंगे। बता दें कि कुछ दिन पहले मधु के पति ठेकेदार संजीव भंडारी भी यहीं पर धरने पर बैठकर अदायगी की गुहार लगा चुके हैं। उन्हें अधिशाषी अभियंता ने आश्वासन देकर धरने से उठा दिया था लेकिन जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो फिर अब उनकी पत्नी यानी मंत्री की बेटी को धरने पर बैठना पड़ा है। जब इस बारे में लोनिवि मंडल धर्मपुर के अधिशाषी अभियंता ई जयपाल नायक से बात की गई तो उन्होंने कहा कि विभाग सभी को रूटीन में बिलो की अदायगी कर रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है