Covid-19 Update

2,27,195
मामले (हिमाचल)
2,22,513
मरीज ठीक हुए
3,831
मौत
34,596,776
मामले (भारत)
263,226,798
मामले (दुनिया)

हिमाचल: जीएस बाली की पार्थिव देह पहुंची कांगड़ा, कल दोपहर बाद होगा अंतिम संस्कार

हिमाचल: जीएस बाली की पार्थिव देह पहुंची कांगड़ा, कल दोपहर बाद होगा अंतिम संस्कार

- Advertisement -

धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री जीएस बाली का देर रात को निधन हो गया है। शनिवार शाम प्राइवेट जेट से गग्गल एयरपोर्ट पर उनकी पार्थिव देह लाई गई, जिसके बाद पार्थिव देह को उनके निवास स्थान पर ले जाया गया। उनके पार्थिव शरीर को रविवार को सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक अंतिम दर्शन के लिए ओबीसी भवन हटवास नगरोटा बगवां में रखा जाएगा। दोपहर करीब 2 बजे के बाद नंदिकेश्वर धाम चामुंडा में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। कांग्रेस के पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के निधन के बाद एक और कद्दावर नेता का निधन होने से पार्टी को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश के सबसे बड़े जिला कांगड़ा से वह वरिष्ठ नेता थे। वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री जीएस बाली के निधन पर कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व राहुल गांधीए प्रदेश सीएम जयराम ठाकुरए नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री समेत प्रदेश के मंत्रियों व विधायकों ने शोक व्यक्त किया है।

हिमाचल के दिग्गज कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री जीएस बाली (GS Bali) का पार्थिव शरीर शनिवार दोपहर बाद कांगड़ा एयरपोर्ट (Kangra Airport) पर पहुंचा। यहां उनको श्रद्धांजलि देने वालों की भारी भीड़ इक्ट्ठा हो गई थी। जीएस बाली की पार्थिव देह को हवाई मार्ग से दिल्ली से कांगड़ा एयरपोर्ट पहुंचाया गया। गग्गल एयरपोर्ट से सड़क मार्ग द्वारा उनकी देह को उनके घर लाया गया।जीएस बाली का कल रविवार को चामुंडा में अंतिम संस्कार (Funeral) किया जाएगा। जीएस बाली के गग्गल एयरपोर्ट पर पहुंचने की खबर सुनने के बाद से एयरपोर्ट पर लोगों की भीड़ जुटना शुरू हो गई थी। लोग अपने चहेते मंत्री के अंतिम दर्शनों को यहां पहुंचे थे। गग्गल एयरपोर्ट पर लोगों का हुजूम उमड़ा था।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जीएस बाली का निधन, सोनिया व राहुल गांधी ने जताया शोक

बता दें कि वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री जीएस बाली का देर रात को निधन हो गया था। जीएस बाली 67 वर्ष के थे। वह पिछले कुछ समय से लगातार अस्वस्थ चल रहे थे और दिल्ली (Delhi) के एम्स (AIIMS) में उपचाराधीन थे। उन्होंने देर रात अस्पताल में अंतिम सांस ली। उनके बेटे रघुवीर सिंह बाली ने सोशल मीडिया के माध्यम से उनके निधन की सूचना दी है। 27 जुलाई 1954 को जन्में जीएस बाली नगरोटा बगवां से चार बार विधायक और दो बार मंत्री रहे। बाली 1990 से 1997 तक कांग्रेस के विचार मंच के संयोजक, सेवादल के अध्यक्ष, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संयुक्त सचिव जैसे पदों पर रहे। वर्ष 1998 में वह पहली बार नगरोटा बगवां विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए। इसके बाद लगातार 2003, 2007 और 2012 में यहां से जीत दर्ज कर विधानसभा पहुंचे। 2003 और 2007 में वह मंत्री रहे।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है