Covid-19 Update

3,12, 100
मामले (हिमाचल)
3, 07, 697
मरीज ठीक हुए
4188
मौत
44, 563, 337
मामले (भारत)
619, 874, 061
मामले (दुनिया)

अक्सर रात में 3 से 4 बजे आते हैं बुरे सपने, रहस्य जानकर रह जाएंगे दंग

इस समय को कहा जाता है मौत का टाइम

अक्सर रात में 3 से 4 बजे आते हैं बुरे सपने, रहस्य जानकर रह जाएंगे दंग

- Advertisement -

दुनियाभर में रात के तीसरे पहर को अशुभ माना जाता है। दुनिया के ज्यादातर धर्मों और संस्कृतियों में तीसरी घड़ी को खतरनाक समय बताया गया है। माना जाता है कि तीन से चार बजे के बीच का समय मौत का टाइम (Death Time) होता है। इस समय इंसान बेहद कमजोर हो जाता है और शैतान की ताकत चरम पर पहुंच जाती है

गौरतलब है कि रात के 12 से 3 बजे के बीच के समय को तीसरा पहर कहा जाता है। बताया जाता है कि इस समय लोगों को अजीब महसूस होता है, जैसे लोगों की आखों का अचानक खुल जाना, दिल की धड़कन का बढ़ना, हाथ-पैर ठंडे होना और तेजी पसीना आना शामिल है। बता दें कि रात के 3 से 4 बजे के समय को मौत का टाइम मानने के पीछे वैज्ञानिक तथ्य भी हैं। विज्ञान और धर्म के तथ्यों का कहना है कि सुबह 3 से 4 बजे का समय खतरनाक होता है।

यह भी पढ़ें- विश्व धरोहर की लिस्ट में शामिल हैं भारत की इन ऐतिहासिक जगह का नाम

वैज्ञानिकों के अनुसार, रात के 3 से 4 बजे के बीच 300 गुना ज्यादा अस्थमा के अटैक का खतरा रहता है। बताया जाता है कि इस समय एड्रेनैलिन और एंटी-इंफ्लेमेटरी हार्मोंस का उत्सर्जन शरीर में बहुत घट जाता है, जिसकी कारण श्वसन तंत्र बहुत ज्यादा सिकुड़ जाता है। इसके अलावा दिन की तुलना में रात में इस समय ब्लड प्रेशर भी बहुत कम होता है, जिसके कारण अस्थमा के अटैक (Asthma Attack) की संभावना बढ़ जाती है। वहीं, रात के 9 बजे ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) ज्यादा होता है, जिस कारण मौत का खतरा बढ़ जाता है। जबकि, सुबह 6 बजे कोर्टिसोल हार्मोन का तेजी स्त्राव होता है, जिसके कारण खून के थक्के जमने और अटैक पड़ने की संभावना ज्यादा होती है।

एक रिसर्च के अनुसार, 14 प्रतिशत लोगों के अपने जन्मदिन के दिन मरने का खतरा रहता है। बताया जाता है कि सुबह के समय ज्यादा सपने आते हैं। पैरानॉर्मल रिसर्चर 3 बजे से 4 बजे के समय को डेविल्स ऑवर या डैड टाइम भी कहा जाता है। कहा जाता है कि इस समय शैतानों और भूतों की गतिविधियां ज्यादा बढ़ जाती हैं, जिसके चलते ज्यादातर लोगों की इस समय नींद खुल जाती है या फिर इस समय बुरे सपने आते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है