Covid-19 Update

2,86,414
मामले (हिमाचल)
2,81,601
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,502,429
मामले (भारत)
554,235,320
मामले (दुनिया)

22 महीने की बच्ची का इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज, यह है अद्भुत प्रतिभा

धर्मशाला की चीलगाड़ी में रहने वाली राभ्या बहल ने तोतली आवाज में गाया गायत्री मंत्र

22 महीने की बच्ची का इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज, यह है अद्भुत प्रतिभा

- Advertisement -

धर्मशाला। देवभूमि हिमाचल (Devbhumi Himachal) की एक छोटी सी बच्ची ने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करवाया है। 22 महीने की इस नन्हीं सी बच्ची ने इन दिनों सबका ध्यान अपनी ओर खींचा हैं। धर्मशाला (Dharmshala) स्थित चीलगाड़ी की रहने वाली राभ्या बहल ने 40 सेकंड में गायत्री मंत्र के उच्चारण के अलावा शरीर के अंगों व फलों सहित बोर्ड में दर्शाई गई अन्य चीजों के नाम भी क्रमबद्ध किए। छोटी सी उम्र में राभ्या (Rabhya ) के इस हुनर का वीडियो परिवार के सदस्यों ने शूट किया था, जिसे इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड (India Book of Records) को भेजा गया, जिसके बाद उसका नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज किया गया।

यह भी पढ़ें: भारत के युवा ने एक मिनट में दिखाया ऐसा हुनर, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज

यहां जानें इस बच्ची ने क्याण्क्या किया

अभय बहल (Abhaye Behl) के घर 24 फरवरी 2020 को जन्मी राभ्या ने इसी वर्ष 8 जनवरी को रिकॉर्ड में यह उपलब्धि दर्ज की है तथा उस समय राभ्या महज 1 वर्ष 10 महीने की थी। राभ्या को मेडल और प्रमाण पत्र के साथ रिकॉर्ड बुक उपहार के तौर पर भेंट की गई है। राभ्या ने 20 सैकेंड में गायत्री मंत्र के उच्चारण के अलावा शरीर के अंगों (Body Part) व फलों सहित बोर्ड में दर्शाई गई अन्य चीजों के नाम भी क्रमबद्ध किए। बता दें कि गायत्री मंत्र उच्चारण का रिकार्ड इस किताब में अभी दो साल के एक बच्चे के नाम दर्ज है, जबकि एक साल 11 माह और 15 दिन की राभ्या ने अब ये रिकार्ड अपने नाम कर लिया है। लिहाजा देश में सबसे कम आयु में ये रिकार्ड बनाने वाली बेटी बन गई है।

तोतले उच्चारण में ही शुरू कर दिया था गायत्री मंत्र पाठ

बतौर रिपोर्ट्स, राभ्या ने पूजा करती मां रुपम बहल से तोतले उच्चारण में गायत्री मंत्र बोलना शुरू कर दिया था। राभ्या ने अंग्रेजी ककहरे की भी पहचान शुरू कर दी है। लिहाजा मां रुपम को लगा कि इतनी कम उम्र में जब बच्चे खुद अपनी नाक (Nose) भी ठीक से पोंछ नहीं सकतेए ऐसे में राभ्या कुछ अलग करने लगी है तो उसने इंडिया बुक आफ रिकार्ड वालों को बेटी की खूबियां बताईं। इसके बाद अब इस कारनामे का आनलाइन मूल्यांकन कर इस उपलब्धि को दर्ज किया। यहां बता दें कि राभ्या ने गायत्री मंत्र मात्र 13 सेकेंड में बोला था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है