Covid-19 Update

2,23,145
मामले (हिमाचल)
2,17,645
मरीज ठीक हुए
3,723
मौत
34,213,644
मामले (भारत)
245,086,616
मामले (दुनिया)

Himachal में बदला मौसम, अप्रैल में कहीं बारिश तो कहीं गिरे बर्फ के फाहे; अटल टनल बंद

बर्फबारी से मनाली-लेह मार्ग बंद, जिंगजिंग बार में करीब 15 सेंटीमीटर ताजा हिमपात

Himachal में बदला मौसम, अप्रैल में कहीं बारिश तो कहीं गिरे बर्फ के फाहे; अटल टनल बंद

- Advertisement -

शिमला। मौसम विभाग के अलर्ट के बीच सोमवार को हिमाचल में मौसम ने करवट बदली। हिमाचल के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में अप्रैल में बर्फबारी (Snowfall) से पूरे प्रदेश में मौसम सुहावना हो गया है। मौसम के करवट बदलते ही लाहुल व मनाली की पहाड़ियों में बर्फबारी शुरू हो गई है। रोहतांग दर्रा, किन्नौर के छितकुल समेत ऊंची चोटियों पर बर्फबारी दर्ज की गई है। रोहतांग दर्रा (Rohtang) सहित ऊंची चोटियों पर बर्फ के फाहे गिरे हैं। जबकि निचले कुछ क्षेत्रों में हल्की बूंदाबांदी हुई है। लेह मार्ग (Leh Road) के पटसेउ, जिनजिंग बार, बारालाचा, भरतपुर सिटी सहित सरचू में भी हल्की बर्फबारी हुई है। सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण मनाली-लेह मार्ग (Manali – Leh Road) भी बंद हो गया है। यह मार्ग रविवार को ही बहाल हुआ था। बताया जा रहा मनाली-लेह मार्ग के तहत आने वाले जिंगजिंग बार में करीब 15 सेंटीमीटर ताजा बर्फ गिरी है। ऐसे में जिंगजिंग बार से वाहनों की आवाजाही ठप हो गई है। हालांकि, अटल टनल रोहतांग (Atal Tunnel Rohtang) से वाहनों की आवाजाही लगातार जारी है। मौसम के बदले मिजाज को देखते हुए प्रशासन ने अटल टनल सैलानियों के लिए बंद कर दी है।

यह भी पढ़ें: Himachal_Weather : 9 जिलों में तीन दिन अंधड़ और ओलावृष्टि का येलो अलर्ट जारी

 

अटल टनल के दोनों छोर सहित लाहुल घाटी के ऊंचाई वाले ग्रामीण क्षेत्रों में बर्फबारी हो रही है, जबकि मनाली के ऊंचाई वाले पर्यटन स्थल भी बर्फ के फाहों से सराबोर हुए हैं। पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि बुधवार तक येलो अलर्ट (Yellow alert) के चलते स्थानीय लोगों व पर्यटकों (Tourist) से ऊंचाई वाले क्षेत्रों की ओर न जाने की अपील की गई है। उधर, सोमवार सुबह से ही शिमला समेत प्रदेश के अन्य भागों में मौसम खराब बना हुआ है। एसडीएम मनाली रमन घरसंगी ने बताया अटल टनल के दोनों छोर पर सुबह से बर्फबारी हो रही है। उन्होंने बताया मौसम के मिजाज को देखते हुए अटल टनल सैलानियों के लिए बंद कर दी है। टनल पर पर्यटक वाहनों की आवाजाही मौसम पर निर्भर रहेगी।

यह भी पढ़ें: Himachal: सूखे गुजरे 3 माह, अब अप्रैल से उम्मीद- चार को बिगड़ सकता मौसम

 

 

आठ अप्रैल तक मौसम खराब

प्रदेश में आठ अप्रैल तक मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला (Meteorological Center Shimla) ने पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के चलते सोमवार से तीन दिन तक ओलावृष्टि और अंधड़ का येलो अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के मध्यम और ऊंचाई वाले इलाकों में सात अप्रैल तक मौसम खराब रहने के आसार हैं। राज्य के मैदानी और मध्यम ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और तूफान, जबकि ऊंचाई वाले कुछ क्षेत्रों में बारिश-बर्फबारी का पूर्वानुमान है। पांच से सात अप्रैल तक प्रदेश के ऊना, बिलासपुर, चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, मंडी, शिमला, सोलन और सिरमौर जिलों में मौसम विज्ञान केंद्र ने ओलावृष्टि और अंधड़ का येलो अलर्ट जारी किया है।

 

मार्ग बहाली भी प्रभावित

बीआरओ कमांडर कर्नल उमा शंकर ने बताया कि सभी दर्रों में बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी के कारण लेह मार्ग पर वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई है। दारचा शिंकुला पदुम और समदो ग्राम्फू मार्ग की बहाली भी प्रभावित हुई है। बीआरओ ने अटल टनल की मदद से इस मार्ग को मार्च में बहाल कर रिकॉर्ड बनाया है। हालांकि बीआरओ का कहना है कि मौसम साफ होते ही इस मार्ग पर वाहनों की आवाजाही सुचारू कर दी जाएगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है