Covid-19 Update

2, 43, 365
मामले (हिमाचल)
2, 28, 454
मरीज ठीक हुए
3874*
मौत
37,380,253
मामले (भारत)
328,826,023
मामले (दुनिया)

क्या आप कंफ्यूजन में है…बच्चों को चाय पिलाए या नहीं, पढ़ें यह खबर

बच्चों की सेहत के लिए चाय बिल्कुल भी अच्छी नहीं होती, दस साल की उम्र तक न पिलाएं

क्या आप कंफ्यूजन में है…बच्चों को चाय पिलाए या नहीं, पढ़ें यह खबर

- Advertisement -

दुनियाभर में अधिकतर लोगों की गुड मॉर्निंग चाय (TEA) के साथ होती है। कुछ लोगों को चाय की ऐसी लत लगी होती है कि वे हर एक घंटे के बाद चाय पीते हैं। यहां तक कई लोग ऑफिस (Office) में चाय के बिना काम भी नहीं कर पाते हैं। चाय का क्रेज कई लोगों पर इस कदर चढ़ा होता है कि अगर उन्हें चाय न मिले तो उनका सिर दर्द होने लगता है। हालांकि ज्यादा चाय का सेवन शरीर में कब्ज, डिहाइड्रेशन और नींद न आने की वजह बन सकता है। इसमें मौजूद कैफीन ज्यादा मात्रा में शरीर में जाने पर बॉडी (Body) को नुकसान होने लगता है। आज हम बच्चों को चाय दिन जाने को लेकर कंफ्यूजन (Confusion) पर बात करने जा रहे हैं। देखा गया है ज्यादातर माता-पिता बिना जानकारी के अपने बच्चों (Children) को रोजाना चाय पिलाने लग जाते हैं। इस कारण बच्चों को चाय की लत भी लग जाती है। पर क्या बच्चों को चाय दिए जाना सही है। हम आपकी इस कंफ्यूजन को दूर करने की कोशिश करेंगे। जानें वो वजहए जो आपको बताएगी बच्चों को चाय दी जानी चाहिए या नहीं।

यह भी पढ़ें:दुबलेपन से आप परेशान है तो अपनाएं यह हेल्दी डाइट, बढ़ने लगेगा आपका वजन

चाय में मौजूद कैफीन

चाय में मौजूद कैफीन के कारण बच्चों के शरीर को काफी नुकसान हो सकता है। अगर उन्हें रोजाना ज्यादा मात्रा में चाय दी जाए तो उनके शरीर में कैफीन की मात्रा बढ़ेगी और उन्हें कब्ज होगी। यहां तक कि उन्हें एसीडिटी का सामना भी करना पड़ सकता है।

यूरिन ज्यादा आता है

विशेषज्ञों की मानें तो चाय में मौजूद कैफीन ज्यादा मात्रा में बच्चों के शरीर में जाने के कारण उन्हें यूरिन ज्यादा आने की समस्या होने लगती है। डॉक्टर्स सलाह देते हैं कि शुरू के एक साल बच्चों को बिल्कुल चाय न दी जाए। अगर बच्चा इससे ऊपर है तो थोड़ी सी ही चाय उन्हें दी जाए। हालांकि विशेषज्ञ 10 साल से कम उम्र के बच्चों को चाय न दिए जाने की सलाह देते हैं।

यह भी पढ़ें:सेहत के लिए हानिकारक है बेवक्त खाना, वजन कम करने के लिए करें ये आसान उपाय

नींद का सिस्टम

बच्चों को चाय इसलिए भी नहीं देनी चाहिए, क्योंकि इससे उनका नींद का सिस्टम भी बिगड़ जाता है। इस कारण वे किसी भी समय सो जाते हैं या उठ जाते हैं और रूटीन चेंज होने से माता-पिता को ज्यादा सफर करना पड़ता है। इतना ही नहींए कैफीन से बच्चों को घबराहट भी हो जाती है। ऐसे में उन्हें चाय न ही दें तो बेहतर होगा।

यह भी पढ़ें:इस इमली के पेड़ के पत्ते खाने से निकलती है तानसेन जैसी सुरीली आवाज, दुनियाभर में फेमस

कैविटी

बच्चों को लगातार चाय देने से उन्हें कैविटी भी हो सकती है। इतना ही नहींए चाय के कारण उनके मुंह से बदबू भी आने लगती है। इसका अहम कारण है बच्चों को चाय की लत लगना और इस कंडीशन में कैविटी का खतरा बढ़ जाता है।

हर्बल टी है बेस्ट

अगर आप बच्चे को चाय पिलाना ही चाहते हैंए तो उसे हर्बल टी दे सकते हैं। ये बच्चों की सेहत के लिए काफी अच्छी मानी जाती है और इसकी खासियत है कि इससे स्किन पर निखार भी आता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है