Covid-19 Update

2,59,566
मामले (हिमाचल)
2,38,316
मरीज ठीक हुए
3914*
मौत
38,903,731
मामले (भारत)
347,844,974
मामले (दुनिया)

हिमाचल: बेकाबू टिप्पर ने कुचल डाली दर्जनों भेड़-बकरियां, 36 की गई जान; 30 घायल

बंगाणा के डोहगी के पास हुआ हादसा, पुलिस ने शुरू की मामले की जांच

हिमाचल: बेकाबू टिप्पर ने कुचल डाली दर्जनों भेड़-बकरियां, 36 की गई जान; 30 घायल

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल के ऊना जिला में एक बेकाबू टिप्पर (Tipper) ने भेड़ पालक की दर्जनों भेड़ बकरियों को कुचल दिया। हादसा जिला के बंगाणा उपमंडल के तहत गांव डोहगी में आज तड़के पेश आया। जबकि पीड़ित भेड़पालक बैजनाथ का बताया जा रहा है। घटना के फौरन बाद टिप्पर चालक मौके से फरार हो गया। इस हादसे में 36 भेड़-बकरियों (Sheep and Goats) की मौके पर ही मौत गई, जबकि करीब 30 भेड़-बकरियां घायल हो गई है। भारी बारिश के बीच भेड़ पालक अपने मवेशियों के अवशेष सड़क पर एकत्रित करता रहा। घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर प्राथमिक जांच के बाद अज्ञात टिप्पर चालक (Tipper Driver) के खिलाफ केस दर्ज किया। मामले की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर पहुंचे एसडीएम (SDM) बंगाणा विशाल शर्मा ने भी पीड़ित गद्दी को 20 हज़ार रुपये की फौरी राहत प्रदान की। घटना में घायल हुई भेड़ों को पशुपालन विभाग के चिकित्सकों द्वारा उपचार दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में दर्दनाक हादसाः पहाड़ी से कार पर गिरा पत्थर, युवक की गई जान

मिली जानकारी के अनुसार आज सुबह करीब 4:30 बजे उपमंडल बंगाणा के तहत डोहगी में एक अज्ञात वाहन ने कांगड़ा (Kangra) जिले के बैजनाथ उपमंडल के निवासी भेड़ पालक किशोरी लाल पुत्र नत्थू राम की भेड़ों के झुंड को कुचल दिया। स्थानीय लोगों ने फौरन घटना की जानकारी पुलिस को दी। वहीं इस घटना को अंजाम देने वाले अज्ञात वाहन चालक की तलाश भी शुरू कर दी गई है। पुलिस ने मामले के संबंध में प्राथमिकी दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है। जानकारी मिलते ही फौरन स्थानीय एसडीएम विशाल शर्मा मौके पर पहुंचे और उन्होंने पीड़ित भेड़ पालक किशोरीलाल को प्रशासन की तरफ से 20 हजार रुपए की फौरी राहत प्रदान की। वहीं, टिप्पर चालक की तलाश के लिए आसपास के क्षेत्रों में लगे सीसीटीवी की फुटेज को भी खंगालना शुरू कर दिया गया है। गौरतलब है कि सर्दी के सीजन में प्रदेश की ऊंची चोटियों से भेड़ पालक अपने पशुओं को लेकर मैदानी इलाकों में आ जाते हैं। वही, दिसंबर से मार्च तक का समय यहां गुजारने के बाद वापस अपने घरों की तरफ सफर शुरू करते हैं। डीएसपी हेड क्वार्टर कुलविंदर सिंह ने मामले की पुष्टि की है उन्होंने कहा कि पुलिस घटना की जांच में जुटी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है