हिमाचल के सांसदों से उठाया तिब्बत का यह बड़ा मुद्दा, क्या कहा जानें यहां

बीजिंग ओलंपिक का बहिष्कार और धार्मिक दमन पर जताई चिंता

हिमाचल के सांसदों से उठाया तिब्बत का यह बड़ा मुद्दा, क्या कहा जानें यहां

- Advertisement -

नई दिल्ली। तिब्बती संसदीय प्रतिनिधिमंडल को अपने तिब्बत (Tibet) वकालत अभियान के चौथे दिन अरुणाचल (Arunachal) से लोकसभा सदस्य तपीर गाओ, बिहार से लोकसभा सदस्य दुलाल चंद्र गोस्वामी, किशन कपूर से मिलने और पैरवी करने का अवसर मिला। हिमाचल (Himachal) से लोकसभा सदस्य रानी प्रतिभा सिंह, पश्चिम बंगाल से राज्यसभा सदस्य स्वप्न दासगुप्ता, गुजरात से राज्यसभा सदस्य जुगलजी माथुरजी ठाकोर और बिहार से लोकसभा सदस्य चंदेश्वर प्रसाद से भी मुलाकात की। भारतीय सांसदों के साथ अपनी बैठकों के दौरान तिब्बती संसदीय प्रतिनिधिमंडल, जिसमें सांसद सेर्टा त्सुल्ट्रिम, गेशे ल्हारम्पा गोवो लोबसंग फेंडे, लग्यारी नामग्याल डोलकर, गेशे एटोंग रिनचेन ग्यालत्सेन और चोएडक ग्यात्सो शामिल थे, ने तिब्बत की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया।


यह भी पढ़ें: दलाई लामा का खुल गया दरवाजा, कोविड के बाद पेंपा सीरिंग से पहली मुलाकात

ऑल पार्टी इंडियन पार्लियामेंट्री फोरम फॉर तिब्बत के पुनरुद्धार से लेकर तिब्बती पहचान और इसकी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के अस्तित्व के सवाल पर अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने तक सांसदों से अनुरोध किया गया था कि वे दुनिया में शामिल होकर तिब्बत के मुद्दे का समर्थन करें। नेताओं ने तिब्बत में मानवाधिकारों के उल्लंघन और धार्मिक दमन पर चिंता व्यक्त की और परम पावन दलाई लामा (Dalai Lama) और चीनी सरकार के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की जल्द बहाली का समर्थन किया।

इसके अलावा अन्य महत्वपूर्ण मामले जैसे कि वैश्विक जलवायु परिवर्तन पर तिब्बती पठार (Tibetan Plateau) का प्रभाव और विश्व नेताओं के साथ जुड़ने की आवश्यकता, जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन (यूएनएफसीसीसी) से इसे समझने के लिए एक वैज्ञानिक अनुसंधान अध्ययन शुरू करने और बीजिंग ओलंपिक (Beijing Olympics) 2022 के बहिष्कार के महत्व का आग्रह किया। तिब्बत में भारी मानवीय पीड़ा के साथ एकजुटता दिखाने के लिए भी सांसदों के साथ प्रतिनिधियों की बैठक के दौरान मूल्यांकन किया गया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है