Covid-19 Update

58,800
मामले (हिमाचल)
57,367
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,137,922
मामले (भारत)
115,172,098
मामले (दुनिया)

जयराम बोले- प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में बनेगी स्वर्णिम वाटिकाएं

पूर्ण राज्यत्व के 50 वर्ष पूरे होने वन विभाग ने शुरु की पहल

जयराम बोले- प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में बनेगी स्वर्णिम वाटिकाएं

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर ( CM Jairam Thakur) ने कहा है कि प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में स्वर्णिम वाटिकाएं ( Swaranim Vatika)लगाई जाएंगी। आज करेड़ू फॉरेस्ट तवीमोड शिमला में सीएम ने प्रदेश वन विभाग ( Forest department) की ओर से आयोजित पूर्ण राज्यत्व स्वर्ण जयंती पौधारोपण अभियान के तहत पौधा लगा कर इसकी शुरुआत की। इस दौरान सीएम ने कहा कि पूर्ण राज्यत्व के 50 वर्ष ( 50 years of statehood) पूरे होने पर सभी विभागों को अलग से कुछ करने को कहा गया था इसी के चलते वन विभाग की ओर से स्वर्णिम वाटिका का निर्माण किया है। उन्होंने इस पहल के लिए वन विभाग के प्रयासों की सराहना भी की। यह वाटिका पिंक थीम पर आधारित है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल दिवस पर शुरू होगी स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा, Jai Ram ने दिए ये निर्देश

 

 

सीएम ने कहा कि पूर्ण राज्यत्व के 50 वर्ष पूरे होने पर सभी विधानसभा क्षेत्रों में इस तरह की वाटिकाएं बनने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और साथ में स्थानीय लोग भी यहां आ कर कुछ सुकून के पल बिता सकते हैं। उन्होंने कहा कि एक वाटिका पर ढाई से तीन लाख का खर्चा आएगा। यह एक नई शुरुआत होगी। सीएम ने कहा कि शिमला आने वाले वाले पर्य़टकों के लिए यह वाटिका आकर्षण का केंद्र होगी। आज यहां पर भिन्न- भिन्न तरह के पौधे लगाए गए हैं, जिससे इस वाटिका की सुंदरता और भी बढ़ेगी।

यह भी पढ़ें: स्वर्णिम हिमाचल की थीम पर होगा इस बार का अंतरराष्ट्रीय Shivratri मेला, 11 को होगा आगाज

उन्होंने कहा कि इससे लोगों को आराम की सुविधा प्रदान करने के लिए रमणीक स्थलों को विकसित करने के साथ-साथ प्रकृति के महत्व और इसके संरक्षण के बारे में शिक्षित करने में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की पहल प्रदेश के वन क्षेत्र में वृद्धि में सहायक होगी। इससे शहरी और अर्द्धशहरी समुदायों को पौधरोपण गतिविधियों में शामिल कर वनों के महत्व और संरक्षण के बारे में जागरूक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ये वाटिका स्थानीय लोगों को मनोरंजन के लिए स्थान उपलब्ध करवाएगी जहां उन्हें पैदल चलने तथा आराम करने की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने वन विभाग को इस पहल के लिए बधाई देते हुए कहा कि स्थानीय समुदाय विशेषकर शहरी और अर्द्धशहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को पर्यावरण और वन संरक्षण जैसे कार्यक्रमों से जुड़ने की आवश्यकता है। वन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि राज्य में वर्ष के दौरान प्रदेश के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में कम से कम 68 स्वर्णिम वाटिकाएं स्थापित की जाएंगी। प्रधान मुख्य अरण्यपाल, वन डॉ. सविता ने कहा कि इस शुरूआत का उद्देश्य आवासीय क्षेत्रों के निकट मानव और प्रकृति के बीच संवाद स्थापित करने के लिए एक अभिन्न स्थान बनाना है। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम के अन्तर्गत चेरी ब्लॉसम के औषधीय गुणों वाले 800 पौधे लगाना प्रस्तावित है। इन्हें सामान्य टोनिक भी माना जाता है और यह शरीर की जलन को दूर करने में भी उपयोगी सिद्ध होते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है