Covid-19 Update

3,09, 058
मामले (हिमाचल)
302, 833
मरीज ठीक हुए
4168
मौत
44,314,618
मामले (भारत)
599,293,153
मामले (दुनिया)

मंदिर में नहीं ले जाना चाहिए खाली लोटा, आ जाती है कंगाली

पूजा के समय पहने जाने वाले वस्त्र केवल पूजा के लिए रखने चाहिए

मंदिर में नहीं ले जाना चाहिए खाली लोटा, आ जाती है कंगाली

- Advertisement -

बहुत सारे लोगों को सुबह उठकर मंदिर (Temple) जाने की आदत होती है। वास्तु शास्त्र में मंदिर को लेकर कुछ नियमों का पालन करने के लिए कहा गया है। हालांकि, अगर इन नियमों का पालन नहीं किया जाए तो हमें भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। क्या आप जानते हैं कि मंदिर में भगवान की पूजा करने के लिए हमें घर से ही जल से भरा लोटा लेकर जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें:आज रखा जाएगा हरियाली तीज का व्रत, पार्वती माता को अर्पित करें ये चीजें

वास्तु शास्त्र के अनुसार, हमें मंदिर जाने के लिए घर से कभी भी खाली लोटा लेकर नहीं जाना चाहिए। वास्तु शास्त्र में मंदिर से ही जल लेकर भगवान को अर्पित करना गलत बताया गया है। मान्यता है कि अगर आप मंदिर जाने से पहले घर से ही लोटे में जल भरकर भगवान का अभिषेक करने जा रहे हैं तो इससे आपको कभी कंगाली नहीं आती है। वहीं, मंदिर से वापस आते वक्त भी हमें जल का लोटा भरकर लाना चाहिए। ऐसा करने से आर्थिक स्थिति ठीक रहती है और कभी पैसों की कमी भी नहीं होती है।

पूजा के कपड़े रखे अलग

वास्तु शास्त्र के अनुसार, पूजा के कपड़ों को भी अन्य कपड़ों (Clothes) से अलग रखना चाहिए। पूजा के समय पहने जाने वाले वस्त्र केवल पूजा के लिए रखने चाहिए। इन कपड़ों को पहनकर कभी भोजन नहीं करना चाहिए। इन कपड़ों को पहन कर रात्रि को सोना भी नहीं चाहिए। इससे कई तरह के लाभ होते हैं और पॉजिटिव एनर्जी आती है।

जरूर जलाएं दीपक

वास्तु शास्त्र के अनुसार, शाम के समय दीपक जलाकर उसे पूरे घर में घुमाना चाहिए। कहा जाता है कि जहां-जहां दीपक जाएगा वहां-वहां घर में नेगेटिव एनर्जी खत्म हो जाती है। साथ ही घर में सुख-शांति का वास होता है और घर में पॉजिटिविटी आती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है