Covid-19 Update

2, 84, 982
मामले (हिमाचल)
2, 80, 760
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,131,822
मामले (भारत)
525,904,563
मामले (दुनिया)

अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव: संपन्न हुआ देव समागम, आशीर्वाद देकर वापिस लौटे देवी-देवता

राज्यपाल ने राज माधव राय मंदिर में की पूजा अर्चना, जलेब में लिया भाग

अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव: संपन्न हुआ देव समागम, आशीर्वाद देकर वापिस लौटे देवी-देवता

- Advertisement -

मंडी। छोटी काशी के नाम से विख्यात मंडी जिला का सात दिवसीय अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव (International Shivratri Festival) मंगलवार को संपन्न हो गया। हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर (Governor Rajendra Vishwanath Arlekar) ने विशेष रूप से उपस्थित होकर इस सात दिवसीय महोत्सव का विधिवत समापन किया। सबसे पहले उन्हें पारंपरिक पगड़ी पहनाई गई। इसके बाद उन्होंने राज माधव राय मंदिर में जाकर विधिवत पूजा अर्चना की और समापन समारोह की सभी प्राचीन रस्में निभाई। पूजा अर्चना के बाद राज माधव राय की पालकी निकाली गई जिसके बाद महोत्सव की अंतिम जलेब (शोभायात्रा) शुरू हुई। यह जलेब शहर भर की परिक्रमा करते हुए ऐतिहासिक पड्डल मैदान में जाकर संपन्न हुई।

यह भी पढ़ें: शिवरात्रि महोत्सव के अंतिम दिन देव कमरुनाग ने दिए दर्शन, आदि ब्रह्मा ने बांधा सुरक्षा कवच

जलेब के पड्डल मैदान में पहुंचते ही जिला भर से आए देवी-देवता अपने मूल स्थानों की तरफ रवाना हो गए। इससे पहले देवी-देवता शहर के चौहाटा बाजार में विराजमान रहे और लोगों ने यहां बड़ी संख्या में आकर देवी-देवताओं के दर्शन किए और उनका आशीर्वाद लिया। अपने संदेश में राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि मंडी का शिवरात्रि महोत्सव देवभूमि हिमाचल की स्मृद्ध देव संस्कृति का परिचायक है। यहां की देव संस्कृति अदभूत है। सात दिवसीय इस महोत्सव का अधिकारिक तौर पर समापन हो रहा है, लेकिन लोग यहां से जिस उल्लास और आनंद के साथ वापिस जा रहे हैं, वो उत्साह और आनंद कभी समाप्त नहीं होगा।

यह भी पढ़ें:बड़ा देव कमरुनाग के पहुंचते ही अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव का आगाज, उमड़ा श्रद्धा का जन सैलाब

राज्यपाल ने कहा कि उन्हें हिमाचल प्रदेश के लोगों से बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है। खासकर यहां के लोगों द्वारा दिया जाने वाला आतिथ्य अदभुत है। हिमाचल प्रदेश के पहाड़ों पर रहने वाले लोग भोले भी हैं और दिलदार भी। यहां के लोग जिस तरह से प्यार बांटते हैं वो कहीं और नहीं मिल सकता। इसके बाद उन्होंने शिवरात्रि का ध्वज उतारकर प्रशासन के अधीन किया और महोत्सव के विधिवत समापन की घोषणा की। वहीं उन्होंने उत्कृष्ट कार्य करने वालों को सम्मानित भी किया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है