Covid-19 Update

2,26,941
मामले (हिमाचल)
2,22,287
मरीज ठीक हुए
3,828
मौत
34,563,749
मामले (भारत)
261,058,217
मामले (दुनिया)

सुखराम परिवार के बाद अब सीएम जयराम के निशाने पर कौल सिंह ठाकुर

लोकसभा के उपचुनाव से पहले ही कर दी बैटिंग शुरू, नहीं छोड़ रहे कोई मौका

सुखराम परिवार के बाद अब सीएम जयराम के निशाने पर कौल सिंह ठाकुर

- Advertisement -

मंडी। नगर निगम चुनावों में सुखराम परिवार को उनके घर पर मात देने के बाद अब जयराम ठाकुर के निशाने पर मंडी जिला से कांग्रेस के दूसरे सबसे बड़े नेता कौल सिंह ठाकुर आ गए हैं। जयराम ठाकुर कौल सिंह ठाकुर पर जुबानी हमला बोलने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। मंडी में होने जा रहे लोकसभा के उपचुनाव से ठीक पहले जयराम ठाकुर ने कौल सिंह ठाकुर को घेरना शुरू कर दिया है। शायद यही कारण रहा कि उन्होंने हिमाचल दिवस का राज्य स्तरीय कार्यक्रम उस स्थान पर रखा जिसे एक तरह से कौल सिंह ठाकुर का गढ़ माना जाता है। कौल सिंह ठाकुर के घर पर पहुंचकर जयराम ठाकुर ने बड़े कड़े लहजे में कौल सिंह ठाकुर पर जुबानी हमला बोलकर इस बात का संदेश दे दिया कि अब उनके निशाने पर वो ही हैं। हरडगलू में आयोजित जनसभा में में जयराम ठाकुर ने स्पष्ट कहा कि जिन्होंने उन्हें छेड़ा वो आजकल वृंदावन चले गए हैं और कौल सिंह ठाकुर को भी स्पष्ट संदेश दे दिया कि उन्हें ज्यादा न छेड़ें, नहीं तो परिणाम घातक होंगे। हालांकि कौल सिंह ठाकुर ने भी इसका पलटवार किया लेकिन जयराम ठाकुर के कड़े तेवर अब भी नजर आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें:हिमाचल में हादसाः भूस्खलन की चपेट में आई कार, तीन युवकों की गई जान

प्रदेश की चार नगर निगमों के परिणाम चाहे जो भी रहे हों, लेकिन जयराम ठाकुर को उनके घर में जो जीत मिली उससे उनके हौंसले बुलंद हो गए हैं। नगर निगम चुनावों के दौरान उन्होंने अपने निशाने पर सुखराम परिवार को रखा और मंडी शहर की जनता ने इस बात पर सीएम का साथ भी दिया। एक तरह से जयराम ठाकुर ने सुखराम परिवार को इन चुनावों से काफी बैकफुट पर लाकर खड़ा कर दिया है और परिणामों से वो यह समझ गए हैं कि उनके जिले की जनता अब उनके साथ है।

यह भी पढ़ें: Himachal : चाचा-भतीजी ने एक साथ लगाया फंदा, पंखे की कुंडे से झूले

सांसद राम स्वरूप शर्मा के निधन के कारण मंडी संसदीय क्षेत्र पर अब जल्द ही उपचुनाव होने जा रहा है। इस उपचुनाव में मंडी जिला ही अहम भूमिका भी निभाएगा क्योंकि इस जिले के 9 विधानसभा क्षेत्र मंडी संसदीय क्षेत्र में आते हैं। सुखराम के बाद कौल सिंह ठाकुर कांग्रेस का मंडी जिला में दूसरा बड़ा चेहरा हैं। दो बार प्रदेशाध्यक्ष रह चुके हैं और पूर्व में कई बार मंत्रीपद भी संभाल चुके हैं। कांग्रेस की तरफ से सीएम पद के दावेदार भी हैं। कौल सिंह ठाकुर का जिला में अपना एक रूतबा है और उपचुनावों में उनका यह रूतबा बीजेपी के भारी साबित हो सकता है। क्योंकि इस बार 2019 में हुए आम चुनावों जैसे हालात नहीं रहे हैं। यही कारण है कि जयराम ठाकुर ने कौल सिंह ठाकुर को अभी से घेरना शुरू कर दिया है।

मंडी लोकसभा सीट पर 2019 में हुए आम चुनावों में बीजेपी प्रत्याशी स्व. राम स्वरूप शर्मा ने ऐतिहासिक 4 लाख 5 हजार मतों के अंतर से जीत हासिल की थी। यह जीत अप्रत्याशित थी। सीएम जयराम ठाकुर के गृहक्षेत्र वाली इस सीट पर जो उपचुनाव होने जा रहा है उसमें बीजेपी को न सिर्फ जीत कायम रखने की बल्कि अधिक से अधिक लीड़ बरकरार रखने की बड़ी चुनौती है। इस चुनौती से पार पाना जयराम ठाकुर के लिए आसान नहीं होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है