Covid-19 Update

58,877
मामले (हिमाचल)
57,386
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,152,127
मामले (भारत)
115,499,176
मामले (दुनिया)

#FarmersProtest : सिंघु बॉर्डर एक और किसान की मौत, BKU का दावा अब 100 किसान गंवा चुके जान

पंजाब और हरियाणा के रहने वाले थे किसान, लगातार हो रही मौतें

#FarmersProtest : सिंघु बॉर्डर एक और किसान की मौत, BKU का दावा अब 100 किसान गंवा चुके जान

- Advertisement -

सोनीपत। कृषि कानूनों (Agricultural laws) के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन के दौरान किसानों की मौत (Farmers Death) का सिलसिला लगातार जारी है। प्रदर्शन (Protest) के दौरान एक और किसान की मौत हो गई। किसान की मौत दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुई। एक दिन पहले भी एक किसान ने आत्महत्या (Suicide) कर ली थी। ये मौतें सिंघु बॉर्डर और टीकरी बॉर्डर (Singhu border & Tikri Border) पर हुईं। इसके अलावा खाप पंचायतों ने दिल्ली कूच के दौरान रोकने पर बैरिकेडिंग तोड़ने की भी चेतावनी (Warning) दी है। उधर, भारतीय किसान यूनियन ने भी दावा किया है कि प्रदर्शन के अब तक के समय में 100 से ज्यादा किसानों की मौत हो चुकी है। बीकेयू (BKU) के अनुसार ये मौतें रोड एक्सीडेंट और नेचुरल डेथ थीं।

यह भी पढ़ें:  #FarmersProtest : गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली को लेकर अड़े किसानों ने नहीं मानी Delhi Police की बात

सिंघु बॉर्डर पर मरने वाले किसान की पहचान जगजीत सिंह के रूप में हुई है। जगजीत सिंह 34 साल का था और लुधियाना जिला के धत्त गांव का रहने वाला था। इसके अलावा पिछले कर टीकरी बॉर्डर पर भी प्रदर्शन के दौरान एक किसान ने जहर खा लिया था। मृतक रोहतक के पाकस्मा का रहने वाला था। जहर निगलने के बाद जयभगवान को इलाज के लिए संजय गांधी अस्पताल में भर्ती करवाया गया, लेकिन वहां उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि जयभगवान प्रदर्शनकारी किसानों के लिए दूध और सब्जियां लाया करता था।

यह भी पढ़ें: किसान ट्रैक्टर रैली पर सुनवाई टली, SC ने कहा – Delhi में कौन-कैसे करेगा एंट्री पुलिस ले फैसला

कृषि कानूनों के खिलाफ धरना दे रहे किसानों की मौत का आंकड़ा 60 के पार पहुंच चुका है। इनमें से कुछ किसानों की मौत ठंड की वजह से हुई है तो कुछ किसानों ने आत्महत्या की है। उधर, सरकार ने किसानों को दसवें दौर की बातचीत में कृषि कानूनों को एक से दो साल तक रोकने का आश्वासन दिया था। इसके अलावा सरकार ने कानूनों पर कमेटी बनाने के लिए भी कहा था, लेकिन फिलहाल किसान सरकार के इस प्रस्ताव पर राजी नहीं हुए हैं। इसके अलावा किसान 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली ट्रैक्टर रैली भी निकालने जा रहे हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है