Covid-19 Update

2,27,354
मामले (हिमाचल)
2,22,669
मरीज ठीक हुए
3,833
मौत
34,606,541
मामले (भारत)
264,096,760
मामले (दुनिया)

विक्रमादित्य बोले- बीजेपी कार्यकर्ताओं में नैतिकता बची है तो स्व रामस्वरूप के परिवार के साथ खड़े हों

वोट मांगने के बजाए न्याय दिलवाने के लिए उनके परिवार के साथ खड़े रहने की भी नसीहत दी

विक्रमादित्य बोले- बीजेपी कार्यकर्ताओं में नैतिकता बची है तो स्व रामस्वरूप के परिवार के साथ खड़े हों

- Advertisement -

शिमला। मंडी संसदीय सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए बीजेपी व कांग्रेस खूब पसीना बहा रहे हैं। एक दूसरे के खिलाफ बयानों का दौर भी चरम पर है। मंडी से कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह के पुत्र विधायक विक्रमादिक्य सिंह ने पूर्व सांसद रामस्वरूप शर्मा की मौत पर फिर से सवाल खड़े किए हैं। साथ ही उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं को वोट मांगने के बजाए न्याय दिलवाने के लिए उनके परिवार के साथ खड़े रहने की भी नसीहत दी है। सोशल मीडिया पर अपनी पोस्ट में विक्रमादित्य सिंह ने लिखा है -क्या भाजपा को इस लोकसभा उपचुनाव मे वोट मांगने का अधिकार है? सब जानते हैं कि यह उपचुनाव भाजपा के पूर्व सांसद पंडित रामस्वरूप शर्मा की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मृत्यु के कारण हो रहा है परिवार जनों का मानना है आत्महत्या नहीं बल्कि एक सुनियोजित षड्यंत्र था ।

उन्होंने लिखा है पंडित स्वरूप का परिवार दिल्ली से लेकर शिमला तक हर दरवाजे पर न्याय और जांच की गुहार लगा चुका है फिर भी आखिर जांच क्यों नहीं हो रही है? मुख्यमंत्री ने उस समय कहा था कि अगर परिवार वाले मांग करेंगे तो वह अवश्य जांच करवाएंगे। अब जब परिवार वाले ही मांग कर रहे हैं तो फिर चुप्पी क्यों ? इस घृणित षड्यंत्र के पीछे आखिर कौन है?
जांच नहीं करवा कर प्रदेश सरकार आखिर किस को बचाना चाहती है? आखिर वह कौन सा राज है जिसके पर्दाफाश होने से सरकार डर रही है? भाजपा कार्यकर्ताओं में अगर थोड़ी सी भी नैतिकता और शर्म बची है तो वह वोट मांगने के बजाय पंडित रामस्वरूप के परिवार के साथ खड़े होते।इन सवालों का जवाब आज प्रदेश माँग रहाँ हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है