Covid-19 Update

2,27,195
मामले (हिमाचल)
2,22,513
मरीज ठीक हुए
3,831
मौत
34,596,776
मामले (भारत)
263,226,798
मामले (दुनिया)

यहां वर्षों लिव-इन रहते आ रहे हैं कपल्स, गांववालों को भी नहीं है इससे कोई दिक्कत

सिंहभूम के बेतलापुर गांव में सात फेरे लिए बिना वर्षों से लिव-इन में रह रहे कपल्‍स

यहां वर्षों लिव-इन रहते आ रहे हैं कपल्स, गांववालों को भी नहीं है इससे कोई दिक्कत

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश के मेट्रो सिटी कहलाने वाले दिल्ली मुंबई जैसे महानगरों में भी लिव इन में रहनेवाले कपल्स के लिए किराए का घर ढूंढना टेढ़ी खीर साबित होता है। लेकिन दिल्ली से दूर एक छोटे से राज्य झारखंड के एक गांव में लोग बिना शादी किए वर्षों से रहते आए हैं। भले ही लिव इन रिलेशनशिप टर्म शहरी लोगों के लिए विलायती हो, लेकिन सिंहभूम जिले घाटशिला के जोजोगोड़ा टोला के बेतलापुर गांव के लिए यह पुरानी बात है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में फ्रांस की युवती का बिहारी पर आया दिल, शादी में भोजपुरी गाने पर नाचे फ्रेंच मेहमान

इस गांव में आज भी कई कपल्‍स लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे हैं। इन लोगों के बच्चे भी हैं। इन्होंने बताया कि आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण वे लोग शादी नहीं कर पाए हैं। लिहाजा, वे वर्षों से लिव-इन रिलेशनशिप में पति-पत्नी की तरह रहते आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि घर परिवार की आर्थिक हालत ठीक नहीं होने के चलते वे शादी की अन्य रस्में नहीं निभा पाए हैं। खास बात यह है कि लिव-इन में रहने वाली महिलाएं अपनी मांग में सिंदूर नहीं लगाती हैं। वो बस दिखावे के लिए हाथ में एक कड़ा पहनती हैं। वहीं, गांव के लोग इसे लव मैरिज मानते हैं।

गांव के एक कपल ने बताया कि उन दोनों की मुलाकात एक शादी समारोह में हुई थी। उसके बाद युवक अपनी प्रेमिका को गांव परिवार के बीच ले आया। इसकी जानकारी ग्राम प्रधान को भी दी गई। उन्हें आर्थिक स्थिति ठीक होने के बाद सिंदूर दान की बात कही गई। ग्राम प्रधान और ग्रामीण के सामने एक कड़ा पहनाया गया, तब से वे दोनों पति-पत्नी की तरह गांव में रह रहे हैं। लिव-इन रिलेशनशिप में रहते हुए उन्हें 5 साल हो चुके हैं।

उन्होंने बताया कि उनके आदिवासी समाज में परम्परा है कि लड़की गांव के प्रधान और लड़का गांव के प्रधान में पोन का लेनदेन नहीं होगा और सिंदूर दान सहित समाज के लोगों को भोज नहीं देते तब तक हमलोगो की शादी की पूरी मान्यता प्राप्त नहीं होती है। इसी तरह से गांव की एक युवती ने बताया कि उनका प्रेम एक हाट से शुरू हुआ और तब से वे गांव में अपने पार्टनर के साथ पति के साथ लिव-इन रिलेशन में रहती आ रही हैं, जब आर्थिक स्थिति ठीक होगी तो वे शादी कर लेंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है